Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

1 जून 2018 से
आधार संख्या की जगह वर्चुअल आईडी नंबर स्वीकार होगा

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने कहा है कि 1 जून 2018 से सत्यापन के उद्देश्य से सेवा प्रदाताओं के लिये आधार नंबर के स्थान पर 16 अंकों वाली वर्चुअल आईडी स्वीकार होगी। यूआईडीएआई ने वर्चुअल आईडी का बीटा वर्जन जारी कर दिया है। इस नये फीचर के तहत आधार धारक को प्रमाणीकरण और सत्यापन के लिये 12 अंकों का अपना आधार नंबर बताने की जगह 16 अंकों का वर्चुअल आईडी (वीआईडी) नंबर ही बताना होगा। यूजर अपनी वीआईडी खुद ही जनरेट कर सकेंगे।
क्या है वर्चुअल आईडी
आधार वर्चुअल आईडी एक तरह का अस्थायी नंबर है। इसमें कुछ ही विवरण होंगे। अगर किसी को कहीं अपने आधार का विवरण देना है, तो वह आधार की जगह वीआईडी नंबर दे सकता है।
ऐसे ले सकेंगे वीआईडी
यह एक डिजिटल आईडी है। इसे सिर्फ यूआईडीएआई के पोर्टल से ही जनरेट किया जा सकता है। यह एक दिन के लिये मान्य होगी।
वीआईडी से क्या होगा
   यह आपको सत्यापन के समय आधार नंबर को साझा नहीं करने देगी।
        वर्चुअल आईडी से नाम, पता और फोटोग्राफ्स जैसी कई चीजों का सत्यापन हो सकेगा।
गगन शक्ति 2018