Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

रक्षा खरीद परिषद् बैठक
वायुसेना को मिलेंगे, उच्च क्षमता के स्वदेशी राडार

रक्षा खरीद परिषद् (डीएसी) की बैठक रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में नई दिल्ली में हुई। इसमें वायुसेना को उच्च क्षमता के राडार, तटरक्षक बल और सेना के लिए दलदल में चलने वाली विशेष नौकाओं की खरीद को मंजूरी दी गयी है। रक्षा खरीद के क्षेत्र में स्वदेशीकरण और आत्मनिर्भरता के लक्ष्य को हासिल करने के लिए हुई इस बैठक में ‘आईडीडीएम खरीदें (भारतीय)’ वर्ग के तहत भारतीय वायुसेना के लिए राडार की खरीद को अनुमति दी गयी है।

ये राडार पैराबोलिक ट्रेजेक्ट्री के बाद हाई स्पीड टारगेट का पता लगाने एवं नज़र रखने की क्षमता के साथ लम्बी दूरी, मध्यम एवं उच्च उन्नतांश राडार कवर उपलब्ध करायेंगे। प्रौद्योगिकी रूप से उत्कृष्ठ इन राडारों में बिना एंटीना के मैकेनिकल रोटेशन 360 डिग्री स्कैन करने की क्षमता होगी तथा न्यूनतम रखरखाव आवश्यकता के साथ 24 घंटे इनका परिचालन हो सकेगा। इन उपकरणों की खरीद देश में वायु रक्षा, नेटवर्क की समग्र दक्षता को बढ़ायेगी।
भारतीय तटरक्षक एवं भारतीय सेना के लिए इंडियन शिपयार्ड से एयर कुशन व्हीकल्स की खरीदी जरूरत के आधार पर प्राथमिकता से मंजूर की गयी है। इसके साथ ही सेना के जवानों को मौद्रिक मुआवजा और सेना द्वारा किये जाने वाले प्रबंध के अंतर्गत वर्दी के लिए व्यक्तिगत रूप से कपड़ा खरीदने की अनुमति देने का प्रावधान भी रखा गया है। इसके अलावा सेना के जवानों के लिए अन्य निर्णय भी डीएसी की बैठक में लिये गये।

उच्च क्षमता वाले 12 राडारों की खरीदी को मिली मंजूरी।
      5500 करोड़ रुपये के रक्षा सौदों को मिली मंजूरी।
      तटरक्षक बल और सेना के लिए एयर कुशन व्हीकल्स नौकाओं की खरीदी को भी मंजूरी मिल गयी है।
            यह नौकायें एक द्वीप से दूसरे द्वीप पर सैन्य साजो-सामान तेजी से पहुँचाने में मददगार होती हैं।