Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

दृष्टिहीन विद्यार्थियों के लिये
जबलपुर में शुरू हुई प्रदेश की पहली ई-लाइब्रेरी ‘सुगम्य पुस्तकालय’
 

भोपाल, मध्यप्रदेश में दृष्टिहीन विद्यार्थियों के लिये पहली ई-लाइब्रेरी ‘सुगम्य पुस्तकालय’ जबलपुर के शासकीय दृष्टिबाधितार्थ विद्यालय में प्रारंभ की गई है। कलेक्टर जबलपुर श्री महेशचन्द्र चौधरी ने ई-लाइब्रेरी का शुभारंभ किया। उन्होंने कक्षा नौवीं में 50 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले 11 दृष्टिहीन छात्रों को मुख्यमंत्री निःशक्त शिक्षा प्रोत्साहन योजना में लैपटॉप भी प्रदान किये।

शिक्षण संस्था के प्राचार्य डॉ. रामनरेश पटेल ने बताया कि दृष्टिहीन छात्रों के लिये प्रारंभ की गई इस ई-लाइब्रेरी में करीब पांच सौ किताबें ऑफलाइन और लगभग 34 हजार किताबें ऑनलाइन उपलब्ध करवाई गई हैं। हिन्दी और अंग्रेजी की इन पुस्तकों में पाठ्यक्रम के अलावा प्रतियोगिता परीक्षाओं से संबंधित पत्रिकाएँ, सम-सामयिक पत्रिकाएँ, आध्यात्मिक और धार्मिक विषयों की पुस्तकें शामिल हैं। ई-लाइब्रेरी में उपलब्ध इन पुस्तकों के अध्ययन के लिये दृष्टिहीन छात्रों का रजिस्ट्रेशन कर उन्हें यूजर आई.डी. और पासवर्ड प्रदान किया गया है।

कार्यक्रम में कलेक्टर श्री महेशचन्द्र चौधरी ने कहा कि लाइब्रेरी के विकास के लिये जिला प्रशासन एवं राज्य सरकार द्वारा हरसंभव सहायता दी जायेगी। उन्होंने उम्मीद जाहिर की है कि दृष्टिहीन छात्र भी तेजी से बदलते परिवेश में अपने आप को ढाल सकेंगे और सूचना तकनीक से जुड़कर प्रतियोगी परीक्षाओं के लिये स्वयं को तैयार कर सकेंगे।