Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

सर्व शिक्षा अभियान
सरकारी स्कूलों में बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के प्रयास हों - कुंवर विजय शाह
छात्रावासों में सुरक्षा सहित सभी आवश्यक इंतजाम किये जायें

भोपाल, सर्व शिक्षा अभियान की सफलता के लिये शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को स्वच्छ वातावरण में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दिये जाने के प्रयास किये जाने चाहिये। स्कूल शिक्षा विभाग के छात्रावासों में सुरक्षा सहित सभी आवश्यक इंतजाम किये जायेंगे। यह बात स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने भोपाल में ‘सर्व शिक्षा अभियान’ की राज्य स्तरीय बैठक को संबोधित करते हुए कही।

  • सैनिकों के परिजनों को घर के नजदीक पद-स्थापना के लिये बनी पॉलिसी।
  • डाइट में अधोसंरचना विकास के लिये 30 करोड़ रुपये स्वीकृत।
  • छात्रावास वार्डनों के प्रशिक्षण पर दिया जा रहा है विशेष जोर।

स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा है कि शिक्षा की गुणवत्ता में डाइट की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने डाइट को इस तरह से विकसित करने की बात कही, जिससे वे राष्ट्रीय-स्तर पर अपनी पहचान बना सकें। मध्यप्रदेश में शिक्षकों के प्रशिक्षण के लिये 45 शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान संचालित हो रहे हैं।

स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर शाह ने डाइट के आधुनिकीकरण के लिए देश के प्रतिष्ठित डाइट में अध्ययन भ्रमण दौरा किये जाने के भी निर्देश दिए। स्कूल शिक्षा मंत्री ने प्रदेश में डाइट में कार्यरत स्टॉफ और अध्ययनरत शिक्षकों के लिए यूनिफॉर्म निर्धारित किए जाने के निर्देश दिए।

स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि हॉस्टल में वार्डन का पद महत्वपूर्ण होता है और उन्हें प्रशिक्षण दिये जाने की आवश्यकता है। इसके लिये ग्रीष्मकालीन अवकाश में वार्डन को हेप्पीनेस, चाइल्ड साइकोलॉजी, नैतिक शिक्षा जैसे विषयों पर विशेष प्रशिक्षण दिया जाये।

स्कूल शिक्षा मंत्री ने हॉस्टल में रहने वाले विद्यार्थियों को राष्ट्रीय पर्व, महापुरुषों की जीवनी और स्थानीय रीति-रिवाजों की जानकारी देने के साथ बच्चों में समाचार-पत्र पढ़ने की आदत विकसित करने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि देश की सीमाओं पर तैनात सैनिकों के परिजनों को अपने घर के करीब पद-स्थापना दिये जाने संबंधी पॉलिसी भी तैयार कर ली गई है। स्कूल शिक्षा मंत्री ने बताया कि डाइट में रिक्त व्याख्याताओं सहित अन्य 450 पदों के लिये राज्य लोक सेवा आयोग को प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिये गये हैं।