दिनांक
विभाग
भोपाल : गुरूवार, फरवरी 22, 2018, 19:52 IST

छत्रपति शिवाजी के व्यक्तित्व और विचारों पर जारी है चार दिवसीय आयोजन

महाराष्ट्र, पंजाब और मध्यप्रदेश के सौ से अधिक कलाकारों ने बुरहानपुर में दी प्रस्तुति
महानाट्य "श्रीमंत योगी" की सांगीतिक प्रस्तुति रही प्रभावी

 

विदेशी प्रभाव से मुक्त 'स्व के राज' की प्राण प्रतिष्ठा के लिए हिन्दवी स्वराज की अवधारणा देने और उसे साकार करने के लिए छत्रपति शिवाजी के विचारों और प्रयासों पर बुरहानपुर में पिछले 4 दिन से विविध कार्यक्रम जारी हैं। इसी क्रम में 21 फरवरी को शाहपुर में महानाट्य 'श्रीमंत योगी' की भव्य प्रस्तुति मराठी भाषा में की गई। इससे पूर्व 18 फरवरी को 'हिन्दवी स्वराज एवं खालसा से एक 'अखण्ड तथा समृद्ध भारत' विषय पर भारतीय शिक्षा मण्डल के अखिल भारतीय संगठन मंत्री श्री मुकुल कानिटकर का संबोधन 18 फरवरी को हुआ तथा 19 फरवरी को बुरहानपुर में सजीव शोभा यात्रा निकाली गई। इसी क्रम में 'श्रीमंत योगी' महानाट्य की प्रस्तुति बुरहानपुर में भी होना है।

शक्ति-भक्ति और संस्कृति के भाव को अभिव्यक्त करती भव्य सजीव शोभा यात्रा ने बुरहानपुर शहर में प्रात: 9 बजे आरंभ होकर 15 किलोमीटर का रास्ता 10 घंटे में तय किया। शोभा यात्रा में धर्म और देश की रक्षा के लिये प्राण न्योछावर करने वाले गुरू गोविन्द सिंह जी तथा छत्रपति शिवाजी महाराज सहित अन्य वीरों की 7 झाँकियों को दर्शाया गया। मुंबई से विशेष रूप से आया शिव ब्रह्माण्ड ढोल-ताशा नागरिकों के आकर्षण का मुख्य केन्द्र रहा। इस बैण्ड में लगभग 100 युवा वादक, 36 ढोल, 12 ताशे तथा एक दर्जन ध्वज वाहक शामिल थे। पंजाब की गत्था पार्टी ने भी अपनी मनमोहक प्रस्तुतियाँ दीं।

शाहपुर में आयोजित महानाटय श्रीमंत योगी की मराठी भाषा में हुई प्रस्तुति में शिवाजी महाराज के जीवन के अनछुए भावनात्मक पहलुओं की जीवंत प्रस्तुति दी गई। महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने बताया कि प्रस्तुति में छत्रपति शिवाजी के सामाजिक, नैतिक और राजनैतिक दर्शन का चित्रण भी दिखाया गया है। गुरू गोंविद सिंह जी के 350 वीं जयंती वर्ष पर देशभर में आयोजित कार्यक्रमों के क्रम में बुरहानपुर में यह आयोजन 17वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में हुए दोनों महापुरूषों के वैचारिक और उद्देश्य की समानता को ध्यान में रखकर किये गये।

संदीप कपूर

श्रवणबेलगोला की तीर्थ यात्रा ट्रेन के जिला क्रम में परिवर्तन
भारत भवन की 36वीं वर्षगाँठ के दस दिवसीय समारोह का शुभारंभ आज
रायसेन जिले में उत्खनन से पन्द्रह लाख वर्ष पहले के मिले प्राचीन प्रागैतिहास के प्रमाण
14 फरवरी से चार दिवसीय भोजपुर महोत्सव
श्रवेणबेलगोला की तीर्थ यात्रा ट्रेन के जिला क्रम में परिवर्तन
देवास में 2-3 फरवरी को महर्षि अरविन्द स्मृति समारोह
जयपुर में मध्यप्रदेश उर्दू अकादमी सर्वश्रेष्ठ घोषित
"नमामि देवि नर्मदे सेवा यात्रा में मुख्यमंत्री श्री चौहान की घोषणाओं पर तेजी से अमल
तीर्थ-यात्रियों को प्रमुख तीर्थ के साथ निकटवर्ती तीर्थ के भी दर्शन होंगे
नर्मदा बेसिन के 16 जिलों में 23 से 30 जनवरी में होंगे नर्मदा जयंती के आयोजन
पुरातत्व संग्रहालयों के उन्नयन के लिये 877.51 लाख रूपये स्वीकृत
मध्यप्रदेश में आदि शंकराचार्य एकात्म यात्रा
आज "मुलाकात कार्यक्रम एवं अनुवाद प्रकोष्ठ का होगा उद्घाटन
रूपंकर एवं ललित कलाओं के लिये 10 पुरस्कार दिये जायेंगे
राष्ट्रीय प्रदीप सम्मान से अलंकृत होंगे प्रख्यात कवि श्री हरिओम पवार
आज से इन्टरनेशनल पाँच दिवसीय स्प्रिचुअल फिल्म फेस्टिबल
यात्रा ने तय की 243 किमी की दूरी और संचित किये 598 धातु पात्र
भोपाल में 26 से 30 जनवरी तक लोकरंग राष्ट्रीय समारोह
आदि गुरु शंकराचार्य एकात्म यात्रा
यात्रा ने तय की 387 कि.मी की दूरी और संचित किये 386 धातु पात्र