| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

View in EnglishDownload Kruti News Download Chanakya News

प्रदेश की तरक्की में वाणिज्यिक कर विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका : वित्त मंत्री श्री मलैया

वाणिज्यिक कर राजपत्रित अधिकारी संघ का महाअधिवेशन सम्पन्न

भोपाल : शनिवार, दिसम्बर 2, 2017, 18:59 IST
 

वित्त एवं वाणिज्यिक कर मंत्री श्री जयंत मलैया ने कहा है कि राजस्व के बिना कोई भी प्रदेश तरक्की नहीं कर सकता। हाल ही के वर्षों में विभिन्न क्षेत्रों में मध्यप्रदेश ने जिन ऊँचाइयों को छूआ है, उसमें वाणिज्यिक कर विभाग की भूमिका महत्वपूर्ण रही है। विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की कर्त्तव्यनिष्ठा की वजह से प्रदेश के राजस्व में भी उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के हितों का पूरा ध्यान रखेगी और उन्हें हरसंभव सुविधाएँ उपलब्ध कराई जायेंगी। वित्त मंत्री श्री मलैया आज भोपाल में मध्यप्रदेश वाणिज्यिक कर राजपत्रित अधिकारी संघ के महा अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे। वित्त मंत्री ने इस मौके पर संघ की स्मारिका 'करीषिणी' का भी विमोचन किया।

वित्त मंत्री श्री मलैया ने कहा कि वर्ष 2003-04 में वाणिज्यिक कर विभाग का राजस्व संग्रहण करीब 3 हजार 952 करोड़ था, जो बढ़कर वर्ष 2016-17 में 27 हजार 318 करोड़ रूपये तक पहुँच गया है। कर संग्रहण में 7 गुना तक वृद्धि हुई है। प्रदेश के बजट की चर्चा करते हुए श्री मलैया ने बताया कि राज्य सरकार ने जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों को प्राथमिकता दी है। प्रदेश का बजट करीब 1.87 लाख करोड़ रूपये तक हो गया है। वित्त मंत्री ने कहा कि जीएसटी के लागू करने में विभागीय अधिकारियों अपने कर्त्तव्यों का पालन कर उत्कृष्टता का प्रदर्शन किया है।

वाणिज्यिक कर विभाग के प्रमुख सचिव श्री मनोज श्रीवास्तव ने कहा कि वर्ष 2017-18 में कर राजस्व संग्रह 30 हजार करोड़ रूपये से ऊपर पहुँच जायेगा। आबकारी से होने वाली आय भी सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन के बावजूद प्रभावित नहीं हुई है। उन्होंने अधिकारियों से लक्ष्य के अनुरूप कर संग्रहण के निर्देश दिये। आयुक्त वाणिज्यिक कर श्री राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि माल एवं सेवा कर (जीएसटी) की जानकारी व्यापारियों और सामान्य वर्ग तक पहुँचाने के लिये विभागीय अधिकारियों ने 1100 से ज्यादा सेमीनार किये हैं। उन्होंने बताया कि जीएसटी में व्यापारियों के माइग्रेशन में वाणिज्यिक कर विभाग का प्रदर्शन देशभर में उत्कृष्ट रहा है। उन्होंने अधिकारियों से कर संग्रहण के ग्रोथ रेट के मामले में पहले तीन स्थानों पर रहने के लिये मिलकर काम करने की समझाईश दी।

राजपत्रित अधिकारी संघ के अध्यक्ष श्री एस.डी. रिछारिया और महासचिव श्री राजकुमार तिवारी ने संघ की गतिविधियों की जानकारी दी।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

जीएसटी अधिनियम में पोर्टल के माध्यम से व्यवसाइयों द्वारा कर राशि का भुगतान
मध्यप्रेदश में 2.89 लाख व्यवसायी जी.एस.टी. नेटवर्क में माइग्रेट
वाणिज्यिक कर विभाग की समाधान योजना
जीएसटी जागरूकता पर न्यू मार्केट के समन्वय भवन में 12 जुलाई को कार्यशाला
वाणिज्यिक कर की जाँच चौकियां बंद होंगी
प्रदेश में जीएसटी संबंधी सभी अधिसूचनाएँ जारी
वस्तु एवं सेवाकर पर समन्वय भवन में हुई कार्यशाला
वस्तु एवं सेवा कर पर व्यापारियों के लिये 23 और 26 जून को कार्यशाला
भोपाल में 27 जून को जी.एस.टी. कार्यशाला
वस्तु एवं सेवाकर पर बैरागढ़ में 29 मई को कार्यशाला
वाणिज्यिक कर मंत्री श्री मलैया जबलपुर में 26 नवम्बर को करेंगे विभागीय समीक्षा
उद्योग मंत्री श्री शुक्ल द्वारा गुरू पूर्णिमा पर बधाई
उद्योग और रोजगार मंत्री श्री शुक्ल ने ईद-उल-फितर पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएँ दीं
व्यवसाइयों की समस्याओं पर सहानभूतिपूर्वक विचार किया जायेगा
आयकरदाताओं को 100 बोतल शराब रखने की छूट की पुन: समीक्षा होगी
अब स्टेम्प की किल्लत खत्म
अच्छे परिवेश में कार्य-कुशलता बढ़ती है
वाणिज्यिक कर विभाग को वेब रत्न अवार्ड
सम्पत्ति कर वसूली में तेजी लाने के निर्देश
वर्ष 2012-13 के लिये व्यवसाइयों को डीम्ड असेसमेन्ट की सुविधा