| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News

डीबीटी के माध्यम से मिलेगा हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ

भोपाल : मंगलवार, नवम्बर 28, 2017, 16:11 IST
 

प्रदेश में संचालित हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर (डीबीटी) के माध्यम से दिलवाने का निर्णय लिया गया है। प्रमुख सचिव विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा सभी विभागों से हितग्राही मूलक योजनाओं की जानकारी मांगी गयी है।

हितग्राही डेटाबेस में आधार सीडिंग एवं प्रमाणिकता की पुष्टि के बाद डीबीटी की व्यवस्था लागू की जायेगी। इसकी समीक्षा राज्य डीबीटी पोर्टल के माध्यम से की जायेगी। इस कार्य के लिए मध्यप्रदेश राज्य इलेक्ट्रानिक्स विकास निगम को नोडल विभाग बनाया गया है। इस कार्य के लिए श्री विमल अरोड़ा, उप मुख्य महाप्रबंधक से सम्पर्क किया जा सकता है। इसका मेल आई.डी. vsarora@mpsedec.com है।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री गुप्ता रविवार को तारामंडल उज्जैन का निरीक्षण करेंगे
एम.पी.एस.ई.डी.सी. के नये कैडर का प्रस्ताव बनाएं
मध्यप्रदेश आइफा सम्मेलन 23 सितम्बर को भोपाल में
भोपाल में 22 सितम्बर से मध्यप्रदेश कारीगर कॉग्रेस
योजनाओं के क्रियान्वयन में टीसीएस देगा टेक्निकल सपोर्ट
मेपकास्ट आय बढ़ाने के लिए प्रोजेक्ट बनाये
प्रदेश की सभी ग्राम पंचायत इंटरनेट से जुड़ेंगी
डिजी गाँव परियोजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए बनी समिति
राज्य निर्वाचन आयोग बना सॉफ्टवेयर डेव्हलपमेंट लाइफ साइकल का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण
"अभिशासन और विकास में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी की भूमिका" पर अधिवेशन प्रशासन अकादमी में 24 अप्रैल को
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री द्वारा न्यूज पोर्टल साइबर न्यूज बुलेटिन्स का विमोचन
म.प्र. युवा वैज्ञानिक कांग्रेस में महिला वैज्ञानिकों का वर्चस्व
मध्यप्रदेश युवा वैज्ञानिक कांग्रेस में 206 रिसर्च पेपर प्रस्तुत
भेल दशहरा मैदान में विज्ञान मेला 3 मार्च से
नई दिल्ली में केन्द्रीय मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने दिया अवार्ड
युवा वैज्ञानिक कांग्रेस भोपाल में 28 फरवरी से एक मार्च तक
ग्राम पंचायत तक पहुँचाये नेट कनेक्टिविटी
प्रदेश के 3000 से अधिक जन शिक्षा केन्द्र में हेड स्टार्ट
भोपाल, इंदौर और जबलपुर में निर्माणाधीन आई.टी. पार्क के कार्य शीघ्र पूरा करें
रिसर्च प्रोजेक्ट के विषय परिषद् तय करे