| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News

उद्यानिकी फसल क्षेत्र विस्तार के लिये 5 साला क्लस्टर आधारित कार्ययोजना लागू

उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण विभाग की परामर्शदात्री समिति की बैठक संपन्न

भोपाल : गुरूवार, मार्च 23, 2017, 22:00 IST
 

प्रदेश में उद्यानिकी फसलों के क्षेत्र विस्तार के लिये आगामी 5 वर्षों की क्लस्टर आधारित कार्य-योजना तैयार की गई है। इस योजना में कृषि जलवायु क्षेत्र के आधार पर उद्यानिकी फसलों का चयन किया गया है। यह जानकारी उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री सूर्यप्रकाश मीणा की अध्यक्षता में हुई विभागीय परामर्शदात्री समिति की बैठक में दी गई।

राज्य मंत्री श्री मीणा ने कहा कि आगामी वित्त वर्ष में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में उच्च तकनीक से पान की खेती को बढ़ावा दिया जायेगा। इसके लिये प्रत्येक पान कृषक को 500 वर्गमीटर में पान उत्पादन करने के लिये जिलावार लक्ष्य निर्धारित कर दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि आम, अमरूद, संतरा, अनार, नीबू, मौसंबी, चीकू, मुनगा, सीताफल, बेर, अंगूर, स्ट्राबेरी, केला एवं पपीता जैसी फसलों के उद्यान विकसित करने के लिये 40 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है।

बताया गया कि प्रदेश में फूलों की खेती को प्रश्रय दिया जा रहा है। पिछले दो वर्ष में विभिन्न जिलों में करीब 350 हेक्टेयर क्षेत्र में फल-फूल की खेती के लिये 1323 कृषकों को अनुदान का लाभ दिया गया। इसी तरह बघेलखंड क्षेत्र में सोनभद्र नदी की तलहटी में तरबूज खरबूज की खेती को बढ़ावा देने की कार्य-योजना क्रियान्वित की जा रही है। सतना एवं शहडोल जिले में 750 कृषकों को 150 हेक्टेयर में तरबूज-खरबूज की खेती के लिये राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के प्रावधानों से लाभान्वित किया गया है।

बैठक में समिति सदस्य विधायक और प्रमुख सचिव उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण श्री अशोक वर्णवाल सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

पर्याप्त सिंचाई और बिजली की सुविधा से है कृषि विकास दर 20 प्रतिशत
कृषि मंत्री श्री बिसेन और नगरीय विकास तथा आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने अपने निवास पर लगाए सात प्रकार के पौधे
उर्वरक/खाद के क्रय मूल्य एवं प्रदाय के लिये समन्वय समिति गठित
कृषि मंत्री श्री बिसेन 2 से 6 मार्च तक इंदौर, धार, जबलपुर और उमरिया के दौरे पर
अच्छा बजट सबका बजट- कृषि मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन
शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर अल्पावधि कृषि ऋण देने की योजना
कृषि मंत्री श्री बिसेन बालाघाट में विभिन्न कार्यक्रम में शामिल होंगे
प्रदेश में गेहूँ उपार्जन की तैयारियों की संभाग-स्तर पर होगी समीक्षा
भंडारण केन्द्र पर समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीदी
खरीफ-2015 की क्षतिग्रस्त फसलों के लिये किसानों को बीमा दावा राशि का वितरण
प्रदेश के 16 जिलों में 22 हजार 300 हेक्टेयर भूमि उद्यानिकी फसलों के लिये चयनित
प्रदेश में प्रकृति आधारित खेती कर कृषि लागत में कमी करें
शून्य बजट खेती के तरीकों पर तीन-दिवसीय प्रशिक्षण 11 फरवरी से
कृषि मंत्री श्री बिसेन द्वारा पूर्व विधायक श्री हुकुमचंद यादव के निधन पर शोक व्यक्त
किसानों की आय को दोगुना करने में सफल होगा बजट
कृषि मंत्री श्री बिसेन और पशुपालन मंत्री श्री आर्य ने किया वत्स संगोपन केन्द्र का लोकार्पण
कृषि संगणना के लिए राज्य समन्वय समिति गठित
कृषि मंत्री श्री बिसेन रायसेन जायेंगे
मंत्री श्री बिसेन ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर की ढाई लाख रूपये का पुरस्कार देने की घोषणा
राज्य कृषक आयोग की कार्य अवधि में एक वर्ष की वृद्धि