| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News

इंडिया आसियान यूथ समिट में भोपाल डिक्लेरेशन पर हुई चर्चा

भोपाल : शुक्रवार, अगस्त 18, 2017, 21:59 IST
 

भारत आसियान यूथ समिट के चौथे दिन आसियान देशों के प्रतिनिधियों के बीच भोपाल-2017 डिक्लेरेशन पर चर्चा हुई। ब्रुनेई, कम्बोडिया, लाओस, मलेशिया, म्यांमार, फिलिपिन्स, सिंगापुर, थाईलैण्ड, वियतनाम और मेजवान भारत के प्रतिनिधियों ने विभिन्न मुद्दों पर समिट के दौरान हुई चर्चा को डिक्लेरेशन में शामिल करने पर सहमति जताई।

डिक्लेरेशन के लिये जिन मुद्दों को शामिल किया गया इनमें शांतिपूर्ण और नियमों पर आधारित विश्व समाज में रहने की प्रतिबंद्धता जताई। इंडिया और आसियान के युवाओं द्वारा शांति, स्थिरता और परस्पर समृद्धता इडों पैसिफिक रीजन में बनाने के लिये राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर सरकार द्वारा किये जा रहे कार्य से जुड़ने की बात कही। इंडिया और आसियान के युवाओं के बीच में परस्पर संवाद को बढ़ावा देने की बात भी कही। समिट में प्रतिनिधियों ने इच्छा जताई की वह आसियान इंडिया पार्टनर्शिप फॉर पीस, प्रोग्रेस एण्ड सेयर्ड प्रासप्रेरिटी (2016-2020) और आसियान 2025 पर क्वालालम्बपुर डिक्लेरेशन पर लगातार ...

समिट में 2030 के एजेण्डा जोकि दुनियां के देशों ने यू.एन. समिट 2015 में निर्धनता खत्म करने दुनिया को प्रोटेक्ट करने और सभी को समृद्धि के लिये अंगीकार किया उसके तहत 17 सस्टेनेवल डेव्हलपमेंट गोलस् को स्वीकार किया गया।

समिट में इंडिया और आसियान देशों की जनता के बीच में सभ्यता और संस्कृति को आदान-प्रदान कर दोस्ती को बढ़ावा देना। युवाओं के दायित्व को खासतौर से नैतिक, आध्यात्मिक और सांस्कृतिक मूल्यों को बढ़ावा देने में और सामूहिक उत्तरदायित्व तथा जिम्मेदार नेतृत्व को मजबूत बनाने के लिये, आसियान देशों के बीच परस्पर अर्थपूर्ण सहयोग बनाने और इसके लिये सकारात्मक नीतियों और कार्यक्रमों को बनाने पर जोर दिया गया।

समिट में बेरोजगारी, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के अभाव और महिलाओं से भेदभाव रोकने को आज के युग की युवाओं की चुनौती माना गया।

समिट डिक्लेरेशन के लिये तय किया गया कि आसियान देशों के बीच विद्यार्थियों, युवाओं, समुदाय के प्रतिनिधियों, विचारकों और अध्यताओं एक-दूसरे देश में भ्रमण कर सम्पर्क कायम रखने की बात कही गई। आसियान देशों के विश्वविद्यालय में छात्रवृत्ति प्रोग्राम, अकादमिक एक्सचेंज प्रोग्राम आदि के संबंध में भी चर्चा की गई। युवा उद्यमियों का नेटवर्क बनाने पर भी चर्चा हुई।

डिजिटल और आईटी कनेक्टिविटि को इंडिया आसियान रीजन प्रमोट करने की बात कही गई। जिससे की युवाओं को संचार तकनीक की उपलब्धता हो और वह आसानी से नॉलेज और स्किल प्राप्त कर अर्थ पूर्ण वैश्विक नॉलेज बेस्ड इकोनामी में सहभागिता सुनिश्चित कर सके। सामाजिक, सांस्कृतिक विकास की प्रक्रिया में स्वैच्छिक युवा समूह की सामर्थ्य को मजबूती देने के लिये भी बात कही गई। युवा संबंधी अनुसंधान और विकास के साथ विज्ञान और तकनीकी जानकारी को शेयर करने की नीति को बढ़ावा देने की बात कही गई। एक ऐसा वातावरण बनाने जिसमें युवाओं को स्वयं को अभिव्यक्त करने, नवाचार करने, राष्ट्र निर्माण के कार्यक्रमों और इंडो पैसेफिक क्षेत्र निर्माण के कार्यक्रमों में बढ़ावा मिले और उन्हें सुविधा दे। डिक्लेरेशन में इंडिया आसियान यूथ सचिवालय की बात भी कही गई जो इस डिक्लेरेशन के एजेण्डा को क्रियान्वित करें।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

सस्टेनेबल डेव्हलपमेंट लक्ष्य प्राप्त करने में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका
भोपाल में 18 अगस्त से राजा भोज मल्टी क्लास सेलिंग चैम्पियनशिप का आयोजन
श्रीमती सिंधिया द्वारा शिवपुरी में नव-निर्मित आरटीओ भवन लोकार्पित
प्रतिभाओं को पर्याप्त अवसर दिलाने के हर संभव प्रयास किए जायेंगे : खेल मंत्री
दो-दिवसीय राज्य युवा उत्सव का 31 जुलाई से आयोजन
राष्ट्रीय विजेता खिलाड़ियों को दी गई रू. 50 लाख से अधिक की प्रोत्साहन राशि
अंतर्राष्ट्रीय जूनियर-शॉटगन प्रतियोगिता में बेटियों ने जीता रजत पदक
नेशनल जूनियर फेंसिंग चैम्पियनशिप की पदक विजेता खिलाड़ियों ने खेल मंत्री से की भेंट
प्रदेश की बेटियों पर हमें गर्व है - खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया
रोजगारोन्मुखी कार्यक्रम से जोड़कर युवाओं को आत्म-निर्भर बनाना सरकार का लक्ष्य
अकादमी के तीरांदाज शिवांश, मुस्कान और अमित एशिया कप में साधेंगे निशाना
राष्ट्रीय प्रतियोगिता में खिलाड़ियों के लिये आधार होगा अनिवार्य
श्री दवे का निधन अविश्वसनीय
ओलम्पिक टास्क फोर्स का गठन प्रधानमंत्री श्री मोदी की सराहनीय पहल
खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया द्वारा श्री विनोद खन्ना के निधन पर शोक व्यक्त
एक थी रानी ऐसी भी म.प्र. में टैक्स फ्री
भास्कर समूह के चेयरमेन श्री रमेशचन्द्र अग्रवाल का निधन
पाँचवीं एशियन स्कूल हॉकी चेम्पियनशिप में मलेशिया को हराकर भारत बना विजेता
खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया शिवपुरी में करेंगी दीनदयाल रसोई योजना की शुरूआत
कैनो स्लालॉम के लिये अब होंगे अंतर्राष्ट्रीय एक्सपर्ट कन्सलटेंट