| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News

नश्वर उत्पादों की भडारण क्षमता में वृद्धि के लिए 5 लाख मीट्रिक टन के शीत गृह बनेगें

भोपाल : मंगलवार, अगस्त 8, 2017, 18:17 IST
 

राज्य शासन द्वारा कृषि को लाभकारी बनाने के लिए उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण विभाग के माध्यम से महत्वपूर्ण योजनाएँ संचालित की जा रही है। इसमें मुख्य रूप से फल-सब्जी, मसाला, पुष्प तथा औषधीय फसलों का क्षेत्रफल उत्पादन एवं उत्पादकता बढाने के लिए अनुदान सहायता एवं तकनीकी मार्गदर्शन विभाग द्वारा सतत प्रदाय किया जा रहा है। प्रदेश में उद्यानिकी का रकबा 17.12 लाख हेक्टेयर हो गया है।

उत्पादित उद्यानिकी एवं कृषि फसलों पर आधारित खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों की स्थापना के लिए अनुदान सहायता संबंधी नवीन प्रावधान उद्योग संवर्धन नीति-2014 में जोड़े गये हैं। इससे प्रदेश में कृषि एवं उद्यानिकी आधारित उद्योगों की संख्या बढ़ेगी एवं उद्यानिकी उत्पाद निरंतर बाजार में उपलब्ध हो सकेंगे।

निजी क्षेत्र में आगामी दो वर्षों में पाँच लाख मीट्रिक टन अतिरिक्त भण्डारण क्षमता के शीत गृह निर्मित कराये जाने के लिए नश्वर उत्पादों की भण्डरण क्षमता में वृद्धि की विशेष योजना स्वीकृत की गई है। इस योजना से अभी तक 5 लाख मीट्रिक टन से अधिक क्षमता के शीत गृह निर्मित किए जायेंगे। शीत गृहों के निर्माण से फसलोत्तर नुकसान की कमी होगी और अधिक उत्पादन की स्थिति में मूल्यो में गिरावट को भी आंशिक रूप से रोका जा सकेगा।

प्रदेश में प्याज भण्डारण की वर्तमान क्षमता को दो वर्षों में बढ़ाकर 5 लाख मीट्रिक टन किए जाने के लक्ष्य के विरूद्ध अभी तक 70 हजार मीट्रिक टन क्षमता के प्याज भण्डार गृहों का निर्माण किया जाकर 14 करोड़ 92 लाख की अनुदान राशि कृषकों को दी गई है। खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए विशिष्ट वित्तीय सहायता का प्रावधान किया गया है, जिसके अन्तर्गत 155 प्रस्ताव ऑनलाइन प्राप्त हुए है।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

दीनदयाल अन्त्‍योदय रसोई योजना-माह अगस्त का खाद्यन्‍न आवंटित
माह अगस्त का नमक का आवंटन जारी
मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजनांतर्गत माह अगस्त का खाद्यान्न का आवंटन जारी
राज्य खाद्य आयोग में सदस्य श्री चौहान और श्री अहिरवार द्वारा पदभार ग्रहण
खाद्य आयोग द्वारा संभाग-स्तर पर विभागीय योजनाओं की समीक्षा और मॉनीटरिंग
खाद्य आयोग के सदस्य श्री किशोर खण्डेलवाल द्वारा पदभार ग्रहण
श्री आर.के. स्वाई ने खाद्य आयोग के अध्यक्ष का पदभार संभाला
मध्यप्रदेश खाद्य आयोग गठित
स्वायत्त खाद्य आयोग में श्री राजीव दुबे सदस्य सचिव नियुक्त
पीडीएस उपभोक्ताओं को राशन के साथ प्याज लेना बाध्यता नहीं- मंत्री श्री धुर्वे
खाद्य विभाग द्वारा प्याज खरीदी नियंत्रण कक्ष स्थापित
प्रत्येक पंचायत में पीडीएस दुकान और एक दुकान पर एक विक्रेता व्यवस्था जल्दी
तकनीकी खामी के बावजूद राशन वितरण नहीं रुकेगा
सी.एम. हेल्पलाइन में उत्कृष्ट कार्य करने पर लेवल-1 के 5 अधिकारी को एक-एक हजार का नगद पुरस्कार
मई माह का राशन पीओएस मशीन के स्थान पर वितरण पंजी से
सही आधार नम्बर की छाया प्रति 31 मई तक राशन की दुकान पर जमा करवाये
प्रदेश में खाद्य प्र-संस्करण उद्योग की अपार संभावनाएँ
मंत्री श्री धुर्वे ने केंद्रीय राज्य मंत्री श्री दवे के निधन पर शोक व्यक्त किया
गलत तरीके से बार-बार आधार सत्यापन करने के प्रकरण में दोषियों पर कार्रवाई करे
इंदौर-उज्जैन संभाग में अब 20 मई तक समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीदी खाद्य विभाग ने अंतिम तिथि बढ़ाई