social media accounts
दिनांक
विभाग
भोपाल : बुधवार, मार्च 21, 2018, 16:56 IST

उपार्जन केन्द्र स्तर से किसानों को एसएमएस

खाद्य विभाग द्वारा निर्देश जारी

 

प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूँ उपार्जन के लिये किसानों को उपार्जन केन्द्र पर किस दिन पहुँचना है इसका एसएमएस अब किसानों को उर्पाजन केन्द्र स्तर से किया जायेगा। खाद्य आयुक्त द्वारा इस व्यवस्था के संबंध में सभी उर्पाजन केन्द्र प्रभारियों को और समितियों को निर्देश दिये गये हैं।

खाद्य आयुक्त श्री विवेक पोरवाल ने बताया कि पहले केन्द्रीकृत व्यवस्था के अंतर्गत किसानों को एसएमएस किये जाते थे। अब उर्पाजन केन्द्र प्रभारी, समिति किसानों को चिन्हित करेंगी और किसानों को एसएमएस किये जायेंगे। उर्पाजन केन्द्र प्रभारियों को कहा गया है कि इस बात ध्यान रखे कि उर्पाजन केन्द्र पर गेहूँ उपार्जन के लिये उतने ही किसानों को संबंधित दिन पर पहुँचने के लिये एसएमएस भेंजे जिन का वह व्यवस्थित और असानी से उपार्जन कर सकें। किसानों को परेशानी नहीं हो।

महेश दुबे

समर्थन मूल्य पर 5873 मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी
ग्राहकों के हितों की सुरक्षा के लिये जागरूकता बढ़ाना जरूरी है : मंत्री श्री धुर्वे
दूर-दराज के ग्रामीणों क्षेत्रों में उपभोक्ताओं को जागरूक करना जरूरी
मुख्यमंत्री अन्नपूर्ण योजना में अप्रैल का खाद्यान्न आवंटित
दीनदयाल अन्त्योदय योजना में मार्च का खाद्यान्‍न आवंटित
अन्नपूर्णा योजना में 29 करोड़ 34 लाख किलोग्राम से अधिक खाद्यान्न आवंटित
रबी सीजन में समर्थन मूल्य पर गेहूँ उपार्जन का पंजीयन 22 फरवरी तक
ग्रामीण क्षेत्र में 1,142 नई राशन दुकानें
खाद्य सुरक्षा अधिनियम में 15 श्रेणियों के 4,98,936 नये परिवार जुड़े
केन्द्रीय आम बजट में सभी वर्गों के कल्याण के निर्णय समाहित : मंत्री श्री धुर्वे
फरवरी माह के लिए 1,16,88,815 किलो नमक का आवंटन
जनवरी माह का केरोसिन आवंटित
तीन लाख 9 हजार नये पात्र परिवारों के लिये सस्ता राशन आवंटित
संस्थाओं को खाद्यान्न शासकीय उचित मूल्य दुकानों से मिलेगा
कल्याणकारी योजना में खाद्यान्न आवंटन और प्रदाय व्यवस्था में परिवर्तन
मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना में 3,17,79,534 किलो लीटर केरोसिन आवंटित
ईएसआई हॉस्पिटल में मरीजों की डाईट में बढ़ोत्तरी
समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान की मिलिंग 16 जनवरी से
प्रत्येक पंचायत में होगी राशन दुकान : हर दुकान पर होगा स्वतंत्र विक्रेता
धान और मोटे अनाज के उपार्जन के लिए पंजीयन तिथि 15 अक्टूबर