| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News

दीपावली पर 7 प्रतिशत अधिक बिजली की सप्लाई

20 करोड़ 49 लाख यूनिट बिजली से प्रदेश हुआ रौशन

भोपाल : शुक्रवार, अक्टूबर 20, 2017, 19:38 IST

इस वर्ष दीपोत्सव के अवसर पर प्रदेश में 19 अक्टूबर को दीपावली के दिन 20 करोड़ 49 लाख यूनिट बिजली की सप्लाई की गई, जबकि पिछले वर्ष दीपावली के दिन प्रदेश में 19 करोड़ 21 लाख यूनिट बिजली की सप्लाई हुई थी। इस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष दीपावली के दिन बिजली की सप्लाई 7 प्रतिशत अधिक रही। प्रदेश में दीपावली के दिन बिजली की अधिकतम मांग 9 हजार 249 मेगावाट रही। वहीं पिछले वर्ष बिजली की अधिकतम मांग 8 हजार 733 मेगावाट रही थी। ऊर्जा मंत्री श्री पारस चन्द्र जैन, अपर प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री इकबाल सिंह बैंस और एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड के प्रबंध संचालक श्री संजय कुमार शुक्ल ने प्रदेश की सभी बिजली कंपनियों के कार्मिकों को सतत् बिजली उत्पादन एवं आपूर्ति करने के लिए बधाई दी है।

एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड के प्रबंध संचालक श्री संजय कुमार शुक्ल ने जानकारी दी कि 18 अक्टूबर को 20 करोड़ 69 लाख यूनिट बिजली की सप्लाई प्रदेश में की गई। पिछले वर्ष प्रदेश में 19 करोड़ 44  लाख यूनिट बिजली की सप्लाई की गई थी, जो पिछले वर्ष की तुलना में 6 प्रतिशत अधिक है। इस वर्ष नरक चौदस को बिजली की अधिकतम मांग 9 हजार 402 मेगावाट रही, जबकि पिछले वर्ष इस दिन प्रदेश में बिजली की अधिकतम मांग 8 हजार 790 मेगावाट दर्ज हुई थी। उल्लेखनीय है कि इस वर्ष 17 अक्टूबर को धन तेरस के दिन प्रदेश में 20 करोड़ 76 लाख 96 हजार यूनिट बिजली की सप्लाई की गई।       

इस वर्ष दीपावली के दिन मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी लिमिटेड के ताप विद्युत गृहों का उत्पादन 1 हजार 693 मेगावाट एवं जल विद्युत गृहों का उत्पादन 168 मेगावाट रहा। इंदिरा सागर, ओंकारेश्वर एवं सरदार सरोवर जल विद्युत गृह से प्रदेश को 430 मेगावाट बिजली प्राप्त हुई। वहीं सेंट्रल सेक्टर से एवं डीवीसी से 3 हजार 066 मेगावाट बिजली का अंश प्राप्त हुआ। सासन बिजली परियोजना से प्रदेश को 1 हजार 347 मेगावाट  एवं आईपीपी एवं अन्य स्त्रोतों से 2 हजार 545 मेगावाट बिजली प्राप्त हुई।

दीपावली के दिन प्रदेश में सफलतापूर्वक बिजली सप्लाई करने में स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर, एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड का कंट्रोल रूम एवं क्षेत्रीय कार्यालय, पावर जनरेटिंग कंपनी के विद्युत गृहों के साथ मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी तथा प्रदेश की तीनों विद्युत वितरण कंपनी के कंट्रोल रूम एवं मैदानी अभियंताओं और कार्मिकों की सराहनीय भूमिका रही।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

9382 मेगावॉट बिजली की मांग के साथ प्रदेश रहा 20 करोड़ 77 लाख यूनिट से रोशन
रीवा सौर परियोजना से उत्पादित विद्युत के भुगतान की गारंटी देगी राज्य सरकार
नेता प्रतिपक्ष का रतलाम में पवन ऊर्जा परियोजना ऊर्जा से संबंधित आरोप राजनीति से प्रेरित
न्यायालयीन प्रकरणों की नियमित समीक्षा करें
इनफिनिट एनर्जी सॉल्यूशन्स को निविदा की शर्तों के अनुसार कार्य दिया गया
नेशनल लोक अदालत 9 सितंबर को होगी
धार्मिक उत्सव समितियां अस्थायी विद्युत कनेक्शन लेकर ही करें साज-सज्जा
मंत्री श्री पारस जैन ने 8वीं तक फेल न करने की नीति समाप्‍त करने के निर्णय का स्वागत किया
ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन ने की स्मार्ट बिजली एप की सराहना
मंत्री श्री पारस जैन ने स्काउट एवं गाइड परिसर में वृक्षारोपण किया
ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन ने बिजली नगर में वृक्षारोपण किया
पौने दो लाख बिजली कनेक्शन की जाँच में 26 करोड़ से अधिक की वसूली
भोपाल में 702 बिजली शिकायत का मौके पर निराकरण
मंत्री श्री पारस जैन ने नेशनल वॉटर रेगाटा केम्प का शुभारंभ किया
मध्यप्रदेश में ग्राम स्तर पर बिजली पंचायत
घरेलू कनेक्शन में बीपीएल आवेदकों को प्रतिमाह 20 रूपये 25 किश्त में देने की सुविधा
नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा में जेण्डर का गठन
बिजली पंचायतों में 6933 शिकायतों का मौके पर निराकरण
ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन का दौरा कार्यक्रम
ग्राम पंचायतों में हो रही बिजली पंचायतें