| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

View in EnglishDownload Kruti News Download Chanakya News

कान्हा के समीप बालाघाट के बिरवा और मण्डला में हवाई पट्टी बनी

विमानन राज्य मंत्री श्री आर्य की अध्यक्षता में हुई परामर्शदात्री समिति की बैठक

भोपाल : मंगलवार, जुलाई 26, 2016, 16:38 IST
 

पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से यात्रियों की सुविधा के लिये कान्हा के समीप बालाघाट के बिरवा और मण्डला में हवाई पट्टी निर्मित की गई है। यह जानकारी आज विमानन राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य की अध्यक्षता में विधानसभा में हुई विभागीय परामर्शदात्री समिति की बैठक में दी गई। बैठक में विधायक श्री राम सिंह यादव, श्री जालम सिंह पटेल, श्री गोपाल वर्मा, श्री बालकृष्ण परिहार, श्री नागर सिंह चौहान और श्रीमती ममता मीणा सहित प्रमुख सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस उपस्थित थे।

बैठक में बताया गया कि विभाग का मुख्य काम अति-विशिष्ट व्यक्ति के लिये विमान/हेलीकॉप्टर उपलब्ध करवाना और शासकीय विमान/हेलीकॉप्टर का अनुरक्षण तथा परिचालन है। प्रदेश में वायु यातायात सेवाओं के विस्तार के लिये स्वयं के संसाधनों से हवाई पट्टियों का विकास और विभाग की आंतरिक कार्यप्रणाली विनियंत्रित करने के लिये नियम प्रभावशील करना है।

राज्य शासन ने प्रदेश में स्थित शासकीय हवाई पट्टियों उज्जैन, रतलाम, सागर के ढाना एवं गुना को पायलट प्रशिक्षण एवं अन्य उड्डयन गतिविधियाँ संचालित करने के लिये संस्थाओं को निर्धारित शुल्क पर आवंटित किया है। प्रदेश स्थित शासकीय हवाई पट्टियों को एयरो-स्पोर्टस गतिविधियों के लिये 3-3 माह पर किराये से देने की नीति है। विमानन विकास गतिविधियों जैसे एयरक्राफ्ट रिसाईक्लिंग, हेलीकॉप्टर अकादमी तथा एयरो-स्पोर्टस आदि की सुविधाएँ विकसित करने के लिये प्रदेश की शासकीय हवाई पट्टियों को पारदर्शी प्रक्रिया से 15 वर्ष अवधि के लिये डेव्हलपमेंट एग्रीमेंट पर निजी निवेशकों को देने की नीति है। इसमें सिवनी हवाई पट्टी को 15 वर्ष की अवधि के लिये मेस्को एयरोस्पेस लिमिटेड को दिये जाने के लिये एग्रीमेंट हो चुका है।

बताया गया कि भोपाल, इंदौर एवं खजुराहो विमान तलों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने के लिये राज्य शासन प्रयासरत है। इसके लिये राष्ट्रीय विमानपत्तन प्राधिकरण को नि:शुल्क जमीन उपलब्ध करवाई गई है। ये विमानतल प्राधिकरण के आधिपत्य में है। उनके द्वारा इस पर विस्तार किया जा रहा है। जबलपुर विमानतल में नाइट-लेंडिंग भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के सहयोग से उपलब्ध करवाई गई है। विमानतल के विस्तार के लिये आवश्यक भूमि भी प्राधिकरण को नि:शुल्क उपलब्ध करवाई गई है। प्रदेश में वाणिज्य एवं पर्यटन विकास की गतिविधियों के विस्तार को देखते हुए सिवनी तथा आदिवासी जिला मण्डला एवं दतिया में नयी शासकीय हवाई पट्टियाँ बनाई गई हैं। औद्योगिक जिला मुख्यालय सिंगरौली में पीपीपी मोड में स्थानीय औद्योगिक इकाइयों के सहयोग से नये हवाई अड्डे के निर्माण की कार्रवाई की जा रही है। इस काम को सड़क विकास निगम से करवाया जा रहा है।

 
विभागीय समाचार