| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News

विश्व पर्यावरण दिवस से प्रदेश में निकलेगी पेड़ लगाओ यात्राएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रियों को सौंपी नर्मदा सेवा मिशन कार्ययोजना की प्रति
15 मई 2018 को प्रस्तुत होगा नर्मदा सेवा मिशन का‍रिपोर्ट कार्ड : मुख्यमंत्री श्री चौहान

भोपाल : मंगलवार, मई 23, 2017, 17:38 IST
 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा सेवा मिशन की कार्ययोजना के क्रियान्वयन की समीक्षा हर माह करें। साथ ही इसकी प्रगति की जानकारी मुख्यमंत्री डेस्क बोर्ड पर डालें। नर्मदा सेवा मिशन के तहत एक साल में जितने काम होंगे उनका रिपोर्ट कार्ड जनता को 15 मई 2018 को प्रस्तुत किया जायेगा। प्रदेश में विश्व पर्यावरण दिवस आगामी 5 से 15 जून तक पेड़ लगाओ यात्राएं निकाली जायेंगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ मंत्रालय में नर्मदा सेवा मिशन की बैठक ले रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संबंधित विभाग के मंत्रियों तथा वरिष्ठ अधिकारियों को नर्मदा सेवा मिशन की कार्ययोजना की प्रतियाँ सौंपी। बैठक में मंत्रिमंडल के सदस्य तथा वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अमरकंटक में नर्मदा सेवा मिशन की कार्ययोजना नर्मदा प्रवाह का विमोचन किया था। इसके बाद से वे नर्मदा सेवा यात्रा को जनआंदोलन से बदलाव के रूप में सब जगह उल्लेख कर रहे हैं। अब इस कार्ययोजना को क्रियान्वित करने की चुनौती हम सबकी है। नर्मदा सेवा मिशन नदी के संरक्षण और पर्यावरण को बचाने का दुनिया में उदाहरण बनेगा। सभी मंत्री अपने-अपने विभाग में नर्मदा सेवा मिशन के तहत हर माह क्रियान्वित कार्यों की समीक्षा करें। नर्मदा के तटों पर पेड़ लगाने के लिए पंजीयन की वेबसाईट आगामी 24 मई को लाँच होगी। मिशन के तहत नर्मदा के दोनों तटों पर छह करोड़ पौधे लगाये जायेंगे। इसके लिये तैयारियों की कार्ययोजना वन, ग्रामीण विकास और नगरीय प्रशासन विभाग ने तैयार की है। आगामी 31 मई को भोपाल में होने वाली कार्यशाला में सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले में होने वाले वृक्षारोपण के नक्शा के साथ आयेंगे।

सभी जिलों में निकलेगी पेड़ लगाओ यात्राएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पौधे लगाने के लिए गड्ढ़े खोदने का काम और पौधों की उपलब्धता पहले से सुनिश्चित की जाये। पेड़ लगाने के लिये जन-जागरण करने के लिये सभी जिलों में पेड़ लगाओं यात्राएँ निकाली जायेंगी। इनमें आमजन पेड़ लगाने के लिये संकल्प पत्र भरेंगे। आगामी 20 जून तक तय हो जायेगा कि कौन व्यक्ति कहाँ पर पेड़ लगायेगा। पेड़ लगाने के बाद पेड़ों की रक्षा के पौधरक्षक नियुक्त किये जायेंगे और आवश्यक सुविधाएँ दी जायेंगी। उन्होंने कहा कि आगामी एक जुलाई को सेटेलाईट इमेजिंग से देखा जायेगा कि नर्मदा के तटों पर वृक्षारोपण की क्या तैयारियाँ हैं। आगामी दो जुलाई को वृक्षारोपण किया जायेगा तथा फिर तीन जुलाई को नर्मदा तटों की सेटेलाईट इमेजिंग से देखा जायेगा कि कितने पेड़ लगायें। एक साल बाद फिर से पूरे क्षेत्र की सेटेलाईट इमेजिंग की जायेगी। वृक्षों का अधिक से अधिक सरवाईवल रेट रखने की कोशिश की जायेगी। उन्होंने कहा कि पौधे की आपूर्ति की बेहतर योजना बनाई जाये। इस अभियान में दो जुलाई को आमजनों, विद्यार्थियों, विभिन्न संगठनों के साथ शासकीय अधिकारी-कर्मचारी भी वृक्षारोपण करें।

 हर ग्राम में नियुक्त होंगे पौधरक्षक

बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, वन विभाग, कृषि विभाग, उद्यानिकी विभाग और नगरीय प्रशासन एवं विकास‍विभाग द्वारा वृक्षारोपण की तैयारियों की जानकारी दी गई। बताया गया कि प्रदेश के प्रत्येक ग्राम में कम से कम 400 वृक्ष लगाने की योजना बनाई गई है। प्रत्येक 200 पौधों पर एक पौधरक्षक नियुक्त किया जायेगा, जो पौधों की देखभाल और सुरक्षा करेगा। पौधरक्षकों को वन विभाग द्वारा प्रशिक्षण दिया जायेगा। वन विभाग पौधों की आपूर्ति करेगा। किस संभाग में किस तरह के पौधों की आवश्यकता है इसका ध्यान रखा जायेगा। उद्यानिकी विभाग द्वारा किसानों के खेतों में 40 लाख पौधे लगाये जायेंगे। नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा नर्मदा तटों के 43 शहरों में वृक्षारोपण जनभागीदारी से कराया जायेगा। कृषि विभाग द्वारा किसानों के खेतों की मेढ़ों पर एक करोड़ पौधे लगाये जायेंगे।

ग्लोबल स्किल समिट

बैठक में बताया गया कि भोपाल में आगामी एक जून को ग्लोबल स्किल समिट आयोजित की जायेगी। इसमें अलग-अलग मुद्दों पर छह सेमिनार होंगे। इसमें इंटेशन टू इम्पलॉय तथा इंटेंशन टू स्किल के लिये अगले तीन सालों में ढ़ाई-ढ़ाई लाख का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह रोजगार सृजन की महत्वपूर्ण योजना है।

आदि शंकराचार्य प्रतिमा के लिये धातु संग्रहण अभियान

बताया गया‍कि प्रदेश में आदि शंकराचार्य की 108 फीट ऊँची प्रतिमा के निर्माण के लिये धातु संग्रहण का अभियान आगामी 15 जून से 15 जुलाई तक चलेगा। यह प्रतिमा ओंकारेश्वर में स्थापित होगी। इसके पहले भोपाल में 25 मई को संत सभा का आयोजन किया जायेगा। प्रदेश में आदि शंकराचार्य से जुड़े पाँच स्थान ओंकारेश्वर, मंडलेश्वर, पंचमठा, उज्जैन और अमरकंटक से पाँच यात्राएँ निकाली जायेंगी। यात्रा के प्रत्येक दिन संवाद सभाएं आयोजित होंगी। इसके अलावा विकासखण्ड स्तर पर उपयात्राएँ भी निकाली जायेंगी। संवाद सभाओं में आदि शंकराचार्य के जीवन दर्शन और प्रतिमा स्थापना के बारे में जानकारी दी जायेगी तथा धातु संग्रह किया जायेगा। प्रत्येक जिले में धातु भंडारण केन्द्र भी बनाये जायेंगे।

मंत्री समीक्षा करें हर सोमवार को

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी मंत्री प्रत्येक सोमवार और मंगलवार को भोपाल में रहें। हर सोमवार को वे अपने-अपने विभाग की समीक्षा करें तथा लक्ष्य पूर्ति करायें। साथ ही अपने विभाग की प्रगति की जानकारी मुख्यमंत्री डेस्क बोर्ड पर उपलब्ध करायें।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

ई-गवर्नेंस की प्रभावी पहल, प्रगति ऑनलाइन
मुख्यमंत्री श्री चौहान दिव्यांग बाराती बच्चों के साथ विवाह समारोह में हुये शामिल
ग्राम तुमड़ा में दुमिल नदी को संरक्षित करने का अनूठा अभियान
शहीद सैनिक नारायण प्रसाद सोनकर के घर पहुँचकर मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
चौबीस सौ गरीब कन्याओं का विवाह महाकुम्भ अद्भुत और प्रेरणादायी
मुख्यमंत्री श्री चौहान से सहकार भारती के प्रतिनिधि मंडल की सौजन्य भेंट
मुख्यमंत्री चौहान ने स्वर्गीय श्री दवे की स्मृति में लगाये आम के पौधे
स्मृति शेष- स्व. अनिल माधव दवे - शिवराज सिंह चौहान
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान नदी नायक की उपाधि से विभूषित
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री श्री एम. वेंकैया नायडू से भेंट
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय वित्त एवं रक्षा मंत्री श्री अरूण जेटली से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय पंचायत एवं ग्रामीण मंत्री श्री तोमर से मुलाकात
युवा उद्यमियों का विकास कर संस्कारित और समृद्ध प्रदेश बनायेंगे
सी.एम. हाउस में 31 मई को होगा नर्मदा सेवा यात्रियों का सम्मान
मुख्यमंत्री श्री चौहान और संत श्री अवधेशानंद की उपस्थिति में अमरकंटक में रामघाट पर हुई भजन संध्या
जरूरतमंद बच्चों को खिलौने उपलब्ध कराने की होगी पहल-मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वयं कचरा उठा कर स्वच्छता का दिया संदेश
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नर्मदा सेवा मिशन 2017 कार्य-योजना प्रधानमंत्री को सौंपी
नर्मदा सेवा यात्रा का विराम और नर्मदा सेवा मिशन का शुभारंभ
नर्मदा उदगम-स्थल पर प्रधानमंत्री श्री मोदी ने की पूजा-अर्चना