| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
FaceBook Twitter You Tube
पिछला पृष्ठ

View in English Download Kruti News Download Chanakya News

मध्यप्रदेश में 2 महत्वपूर्ण योजनाएँ शुरू होंगी

प्रधानमंत्री जन-धन योजना में 62 लाख परिवारों के खुलेंगे बेंक खाते
हर स्कूल में होगी शौचालय व्यवस्था
 

भोपाल : शनिवार, अगस्त 23, 2014, 18:29 IST
 

मध्यप्रदेश में 2 महत्वपूर्ण योजनाएँ शुरू होने जा रही हैं। प्रधानमंत्री जन-धन योजना का मकसद प्रदेश के हर परिवार का बेंक खाता खोलना है। दूसरी योजना का मकसद इस वर्ष के अंत तक सभी स्कूलों में शौचालय की व्यवस्था करना है।

प्रधानमंत्री जन-धन योजना

मध्यप्रदेश में कुल एक करोड़ 50 लाख परिवार हैं, जिनमें से 62 लाख के पास बेंक खाते नहीं हैं। इनमें 50 लाख ग्रामीण और 12 लाख शहरी परिवार शामिल हैं। योजना को लागू करने के लिये समयबद्ध कार्य-योजना तैयार की गई है, जिसे पूरी तत्परता से लागू कर योजना के उद्देश्य को 14 अगस्त, 2015 तक पूरा कर लिया जायेगा।

योजना के पहले पिलर में सभी परिवारों को बेंकिंग सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। दूसरे पिलर में ओवर ड्राफ्ट सुविधा के साथ बेसिक बेंक अकाउंट खोलना और तीसरे पिलर में वित्तीय साक्षरता प्रोग्राम चलाना शामिल हैं। वर्ष 2015 से 2018 तक पिलर 4 में क्रेडिट गारंटी फण्ड की स्थापना की जायेगी, पाँचवें पिलर में माइक्रो इंश्योरेंस की व्यवस्था और छठे पिलर में असंगठित क्षेत्र के लिये पेंशन योजना शामिल है।

योजना के लिये तैयार किये गये एक्शन प्लान में परिवारों का सर्वे किया जायेगा और केम्प लगाकर खाते खोले जायेंगे। प्रत्येक खातेदार को रुपाय डेबिट कार्ड दिये जायेंगे। छह माह की बचत/साख हिस्ट्री के बाद 5000 रुपये तक ओवर ड्राफ्ट सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। सभी प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के भुगतान इन खातों के माध्यम से होंगे।

सभी स्कूलों में शौचालय व्यवस्था

प्रदेश में कुल 18 हजार 619 स्कूल में शौचालय की व्यवस्था नहीं है। इनमें इस वर्ष ही यह व्यवस्था कर दी जायेगी। इनमें 17 हजार 743 प्राथमिक/माध्यमिक विद्यालय और 876 हाई/हायर सेकेण्डरी स्कूल हैं। कुल 1338 हाई/हायर सेकेण्डरी स्कूल में से 700 भवन विहीन हैं। इनके भवन बन जाने पर बालक और बालिकाओं के लिये पृथक शौचालय की व्यवस्था स्वत: हो जायेगी। शेष 438 स्कूल में पृथक बालक व बालिका शौचालय बनाये जायेंगे।

शाला शौचालयों का निर्माण शाला प्रबंधन समितियों द्वारा किया जायेगा। जिन शौचालयों में साफ-सफाई के लिये पर्याप्त पानी की व्यवस्था नहीं है वहाँ यह व्यवस्था की जायेगी। शौचालयों के रख-रखाव के लिये मरम्मत निधि से कार्य करवाये जायेंगे। पंचायत विभाग की पंच परमेश्वर योजना में भी शौचालयों की साफ-सफाई की व्यवस्था करवाई जायेगी।

FaceBook Twitter Youtube
 
समाचारो की सूची
मध्यप्रदेश में 2 महत्वपूर्ण योजनाएँ शुरू होंगी
एक वर्ष में मध्यप्रदेश के सभी स्कूलों में शौचालयों की व्यवस्था
प्रधानमंत्री जन धन योजना शुरू करने मध्यप्रदेश ने की तैयारियाँ
विदेश प्रवास से लौटने पर मुख्यमंत्री श्री चौहान का स्वागत
विद्युत व्यवस्था हर हाल में सुचारू और सक्षम बनी रहे - मुख्यमंत्री श्री चौहान
छह पार्टनर कन्ट्री सहित बीस देशों की भागीदारी होगी
प्रदेश के 20 जिले में सामान्य और 31 में सामान्य से कम वर्षा
विधानसभा उप चुनाव की मतगणना 25 अगस्त को
बेहतर रिजल्ट के लिये बेहतर प्रशिक्षण जरूरी
जनसम्पर्क मंत्री श्री शुक्ल द्वारा पत्रकार श्री प्रदीप जायसवाल के पिताजी के निधन पर शोक व्यक्त
15 महाविद्यालय में होगा योग प्रशिक्षण शिविर
यू.जी.सी. वेतनमान भुगतान के लिए केन्द्र से मिले 65 करोड़ 50 लाख रुपये
राज्य मंत्री श्री पटवा का दौरा कार्यक्रम
दमोह में पेयजल समस्या होगी इतिहास की बात
बाँस उत्पादकों को मिलेगा राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय बाजार
विद्यार्थियों की छात्रवृत्ति स्वीकृति और वितरण की प्रक्रिया हुई ऑनलाइन
मंत्री श्री गौर हरियाणा के सोनीपत के दौरे पर
मंत्री श्री गौर 25 अगस्त को सीकर प्रवास पर
म.प्र. बाल आयोग ने सिंधिया स्कूल की घटना का संज्ञान लिया
समय पर राशन कार्ड न बनाने पर आर्थिक जुर्माने का प्रावधान
1