social media accounts

आज के समाचार

पिछला पृष्ठ

चार संसदीय क्षेत्र के 6 मतदान केन्द्र में 22 अप्रैल को पुनर्मतदान

 

भोपाल : रविवार, अप्रैल 20, 2014, 17:39 IST
 

मध्यप्रदेश में दूसरे चरण के चार संसदीय क्षेत्र के 6 मतदान केन्द्र में 22 अप्रैल को पुनर्मतदान करवाया जायेगा। भारत निर्वाचन आयोग ने मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के प्रस्ताव पर आज अपनी मंजूरी दी। इन संसदीय क्षेत्रों में विगत 17 अप्रैल को मतदान हुआ था।

निर्वाचन आयोग ने 03-ग्वालियर संसदीय क्षेत्र के विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र 16-ग्वालियर पूर्व विधान सभा क्षेत्र के मतदान केन्द्र क्रमांक 67-जडेरूआकला में 22 अप्रैल को पुनर्मतदान कराने के आदेश दिये हैं। इसी तरह 05-सागर संसदीय क्षेत्र के 37-सुरखी विधान सभा क्षेत्र के मतदान केन्द्र क्रमांक 19-पिटुआ और 22-बकेना में भी पुनर्मतदान करवाया जायेगा। आयोग ने 19-भोपाल संसदीय क्षेत्र के 154-गोविंदपुरा विधान सभा क्षेत्र के मतदान केन्द्र क्रमांक 209- और 210-बरखेड़ा में भी पुनर्मतदान करवाने को कहा है। इसी प्रकार 20-राजगढ़ संसदीय क्षेत्र के मतदान केन्द्र क्रमांक 169-हरजीपुरा में भी पुनर्मतदान करवाने के निर्देश चुनाव आयोग द्वारा दिये गये हैं।

आयोग के आदेश प्राप्त होने के बाद सीईओ कार्यालय द्वारा ग्वालियर, सागर, भोपाल एवं राजगढ़ संसदीय क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर को पुनर्मतदान संबंधी तैयारियाँ करवाने को कहा गया है। पुनर्मतदान वाले मतदान केन्द्रों में सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक मतदान होगा। मतदान दलों को 21 अप्रैल को मतदान सामग्री सहित मतदान केन्द्र के लिए रवाना करवाने के निर्देश दिये गये हैं। शेष समस्त व्यवस्थाओं के लिए हाल में सम्‍पन्न सामान्य निर्वाचन के जारी निर्देश यथावत लागू रहेंगे। रिटर्निंग ऑफिसर को मतदान दलों की रवानगी एवं उनके पहुँचने की जानकारी 21 अप्रैल को फेक्स/ई मेल द्वारा भेजने को कहा गया है।

निर्वाचन अधिकारियों को 22 अप्रैल को सुबह 7 बजे के पहले मॉक पोल सम्पन्न करवाने तथा मतदान प्रारम्भ होने की सूचना भी मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को देने के निर्देश दिये गये हैं। प्रति 2 घंटे में मतदान के प्रतिशत की रिपोर्ट भी माँगी गई है। निर्वाचन आयोग को भेजी जाने वाली 3 सेक्यूटरी रिपोर्ट भी दोपहर एक बजे, शाम 7 बजे एवं 23 अप्रैल को सुबह 7 बजे अनिवार्य रूप से आयोग को भेजकर सीईओ कार्यालय को अवगत करवाने के निर्देश दिये गये हैं। आरओ को विधानसभा क्षेत्र के सामान्य प्रेक्षक, व्यय प्रेक्षक पुलिस प्रेक्षक को भी पुनर्मतदान की सूचना देने को कहा गया है।


प्रलय श्रीवास्तव