social media accounts

आज के समाचार

पिछला पृष्ठ

मतदाताओं को वैकल्पिक दस्तावेज प्रस्तुत करने की सुविधा

मतदाता सूची में नाम होना आवश्यक है 

भोपाल : बुधवार, अप्रैल 23, 2014, 15:47 IST
 

प्रदेश में लोकसभा चुनाव में तीसरे और अंतिम चरण के लिए मतदान 24 अप्रैल को 10 संसदीय क्षेत्रों में होगा। ऐसे मतदाता जिनका नाम एवं फोटो वोटर लिस्ट में शामिल हैं किन्तु उनके पास ऐपिक कार्ड नहीं है तो वे वैकल्पिक दस्तावेज के जरिये मतदान कर सकेंगे। भारत निर्वाचन आयोग ने ऐसे मतदाता को मतदान की सुविधा देने के लिये वैकल्पिक दस्तावेज प्रस्तुत किये जाने की सुविधा दी है। आयोग ने निर्देश में कहा है कि वैकल्पिक दस्तावेज प्रस्तुत करने की सुविधा उन्हीं मतदाता को होगी, जिनका नाम मतदाता सूची में दर्ज है। तीसरे चरण में प्रदेश के 10 संसदीय क्षेत्र विदिशा, देवास, उज्‍जैन, मंदसौर, रतलाम, धार, इंदौर, खरगोन, खण्डवा और बैतूल में 24 अप्रैल को प्रात: 7 बजे शाम 6 बजे तक मतदान होगा।

वैकल्पिक दस्तावेज में मतदाता अपने स्वयं का पासपोर्ट, ड्रायविंग लायसेंस, केन्द्रीय, राज्य सरकार के कार्यालय, सार्वजनिक सेक्टर इकाइयाँ, सार्वजनिक लिमिटेड कम्पनी का कार्मिक परिचय पत्र, बैंक अथवा डाकघर द्वारा फोटो सहित जारी पासबुक, पेन कार्ड, आधार कार्ड, एमपीआर के अधीन आरजीआई द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अधीन जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड और फोटो सहित पेंशन दस्तावेज एवं अधिकृत वोटर स्लिप जो आयोग के निर्देशानुसार जारी की गई शामिल हैं। इनमें से कोई एक प्रस्तुत कर मतदाता मतदान कर सकता है।

इसके अलावा अप्रवासी भारतीय जो पासपोर्ट के आधार पर निर्वाचक नामावली में पंजीकृत हुए हैं, को मतदान केन्द्र में केवल उनके मूल पासपोर्ट के आधार पर ही पहचाना जायेगा और किसी अन्य पहचान दस्तावेज से नहीं।


मुकेश मोदी
मतदाताओं को लुभाने की फोटो, वीडियो, ऑडियो अब सीधे अपलोड होगी
तीसरे चरण में 416 मतदान केन्द्र पर होगी वेब-कास्टिंग
मतदान प्रतिशत जानने के लिये सीईओ की वेबसाइट पर लिंक उपलब्ध
मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव का तीसरा और अंतिम चरण 24 अप्रैल को
लोकसभा चुनाव के साथ विदिशा विधानसभा उपचुनाव भी 24 अप्रैल को
मतदाताओं को वैकल्पिक दस्तावेज प्रस्तुत करने की सुविधा
सिविल न्यायाधीश वर्ग- दो के परीक्षा परिणाम घोषित
प्रशासकीय अधिकारी अब ऑनलाइन भर सकेंगे सी.आर.
राजनैतिक दलों की 68 प्रतिशत से अधिक शिकायतों का निराकरण
बैतूल संसदीय क्षेत्र में डॉ. महेश अखाड़े व्यय प्रेक्षक
तीसरे चरण में एक करोड़ 64 लाख से अधिक मतदाता को वोटर स्लिप का वितरण
सीईओ कार्यालय में तीसरे चरण के मतदान की प्रेस ब्रीफिंग
1