| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News

3 लाख 91 हजार से अधिक मतदाताओं ने दबाया नोटा का बटन

सबसे अधिक रतलाम और सबसे कम ग्वालियर में हुआ नोटा का उपयोग 

भोपाल : शनिवार, मई 17, 2014, 19:46 IST
 

मध्यप्रदेश में 29 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में हुए चुनाव में 3 लाख 91 हजार 797 मतदाताओं ने ईवीएम और डाक-मतपत्र में नोटा यानि 'इनमें से कोई नहीं' का इस्तेमाल किया। मतदाताओं द्वारा नोटा का सबसे अधिक उपयोग रतलाम संसदीय क्षेत्र में हुआ, जहाँ 30 हजार 364 मतदाताओं ने नोटा का बटन दबाया। ग्वालियर में सबसे कम 4,219 वोटर ने नोटा का उपयोग किया।

अन्य संसदीय क्षेत्रों में बालाघाट में 6922, बैतूल में 26 हजार 726, देवास में 10 हजार 253, गुना में 12 हजार 481, छिंदवाड़ा में 25 हजार 499, दमोह में 12 हजार 600, धार में 15 हजार 437, होशंगाबाद में 18 हजार 741, इंदौर में 5 हजार 944, जबलपुर में 7 हजार 888, खजुराहो में 7 हजार 838, खण्डवा में 17 हजार 149, खरगोन में 22 हजार 141, राजगढ़ में 10 हजार 292, रतलाम में 30 हजार 364, मुरैना में 4,792, मण्डला में 28 हजार 306, मंदसौर में 8 हजार 568, भिण्ड में 5 हजार 572, विदिशा में 10 हजार 618, भोपाल में 5 हजार 181, उज्जैन में 12 हजार 287, टीकमगढ़ में 10 हजार 55, सीधी में 17 हजार 350, सागर में 9 हजार 504, शहडोल में 21 हजार 376, सतना में 13 हजार 36 और रीवा में 10 हजार 658 मतदाताओं ने ईवीएम और डाक-मतपत्र में नोटा का इस्तेमाल किया।

उल्लेखनीय है कि भारत निर्वाचन आयोग ने ईवीएम और डाक मत पत्र में पहली बार 'इनमें से कोई नहीं' नोटा को नवंबर-दिसंबर, 2013 में पाँच राज्य में हुए चुनाव में शामिल किया था। आयोग के निर्देशानुसार नोटा के विकल्प के अंतर्गत प्राप्त मतों की गणना अवैध मतों के रूप में की जाती है। आयोग ने जमानत जब्त होने की गणना अभ्यर्थियों को प्राप्त कुल वैध मतों के आधार पर ही करने के निर्देश दिए थे। पिछले विधानसभा चुनाव में 6 लाख 43 हजार 144 मतदाताओं ने नोटा का उपयोग किया था।

Youtube
 
समाचारो की सूची