| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

View in English Download Kruti News Download Chanakya News

सेवा की विश्वसनीयता के लिए निरंतर आत्मविश्लेषण करें

आऊट ऑफ बॉक्स थिंकिंग जरूरी
मंथन की प्रक्रिया फिर शुरू होगी
सिविल सर्विस डे पर कार्यशाला में मुख्यमंत्री श्री चौहान
 

भोपाल : गुरूवार, अप्रैल 20, 2017, 16:22 IST
 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सिविल सर्विस की विश्वसनीयता एवं प्रतिष्ठा को और अधिक प्रभावी बनाने के लिये निरंतर आत्मविश्लेषण की प्रक्रिया चलती रहे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में प्रशासनिक सुधारों के लिए मंथन की प्रक्रिया फिर से शुरू की जायेगी। श्री चौहान आज प्रशासनिक अकादमी में सिविल सर्विस डे के अवसर पर आयोजित कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे।

श्री चौहान ने कहा कि वर्तमान व्यवस्था को बनाए रखने में सिविल सेवा का योगदान महत्वपूर्ण है। उपलब्धियाँ बहुत है। अवसर आत्म विश्लेषण का है। जनहित में और बेहतर कैसे किया जा सकता है इस पर चिंतन की आवश्यकता है। फैसले तेजी से, ताकत से लिये जायें। उनके लाभ अंतिम कड़ी तक पहुँच जाये। प्रक्रियाओं के निर्माण में उनके जमीनी क्रियान्वयन पर भी ध्यान दिया जाये। पात्र व्यक्ति को समय पर, बिना भागदौड़ के सरकार की योजनाओं का लाभ मिले। उन्होंने सुशासन के प्रयासों की बेहतर मॉनीटरिंग और मानवीय सोच के साथ कार्य की जरूरत बताई। ऐतिहासिक संदर्भों का उल्लेख करते हुये कहा कि अब सिविल सेवा शासन, नहीं जनता की सेवा है। सुविधाएँ, विशिष्टताएं सब उनके कल्याण के प्रयासों के लिए ही है। गरीबों के हित पर फोकस करते हुये ऑऊट ऑफ बॉक्स थिंकिंग जरूरी है।

मुख्यमंत्री ने भगवद् गीता के श्लोक का संदर्भ देते हुए कहा कि सात्विक कार्यकर्ता की विशिष्टताओं का निरंतर स्मरण करते रहें। इससे जीवन और बेहतर होगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि लोक सेवक पर प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता की जवाबदारी है। सिविल सर्वेंट अपनी प्रतिभा, क्षमता और परिश्रम का सर्वश्रेष्ठ उपयोग जनसेवा में करें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे अपनी टीम के सदस्यों को बेहतर से बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित करें। सफलताओं का श्रेय उन्हें दें। हर विभाग उत्कृष्ट कार्य करने वालों को पुरस्कृत करने की योजना बनाएँ। उन्होंने अंर्तविभागीय समन्वय, सुशासन प्रयासों की प्रभावी मानीटरिंग, फाइल ट्रेकिंग सिस्टम को प्रभावी बनाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि सिविल सेवा को अपने देश, समाज और लोगों के लिए कुछ करने का अवसर मानना चाहिये। उन्होंने सिविल सेवा के ध्येय वाक्य का स्मरण कराते हुये कहा कि हर लोक सेवक उस पर अमल करे तो व्यवस्था बेहतर बनाने का काम बहुत आसान हो जायेगा। उन्होंने कार्यशाला के आयोजन और विषयों को समसामयिक और अत्यंत उपयोगी बताया।

उन्होंने आनंद विभाग द्वारा निर्मित कैलेण्डर की सराहना करते हुए प्रत्येक अधिकारी को अपने घर में रखने के लिए कहा। बताया कि वे स्वयं प्रधानमंत्री श्री मोदी को दिल्ली में कैलेण्डर भेंट करेंगे। कार्यशाला में बारहसिंगा कन्जर्वेशन एट कान्हा पुस्तक का विमोचन किया।

मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह ने कार्यशाला की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कार्यशाला में अपर मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैस का आनंद विभाग की संकल्पना और संयोजन पर, अपर महानिदेशक पुलिस श्री अन्वेष मंगलम का सी.सी.टी.वी. की उपयोगिता पर, सचिव मुख्यमंत्री श्री हरिरंजन राव का सी.एम. हेल्पलाईन पर, संभागायुक्त इंदौर श्री संजय दुबे का अंगदान पर, प्रधान मुख्य वन संरक्षक वन्य प्राणी श्री जितेन्द्र अग्रवाल का वन एवं वन्य प्राणी नवाचार पर और अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक सूचना प्रौद्योगिकी श्री अनुराग श्रीवास्तव का वन राजस्व भूमि विवाद पर प्रस्तुतिकरण रखा गया है।

कार्यशाला में पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि कुमार शुक्ला, महानिदेशक प्रशासन अकादमी श्रीमती कंचन जैन और प्रधान मुख्य वन संरक्षक वन बल श्री अनिमेष शुक्ला सहित अखिल भारतीय प्रशासनिक, पुलिस और वन सेवा के अधिकारी उपस्थित थे।

Youtube
 
समाचारो की सूची
मण्डला पहुँची नर्मदा सेवा यात्रा
नर्मदा सेवा यात्रा के समापन पर प्रधानमंत्री अमरकंटक आयेंगे
मध्यप्रदेश को लगातार पाँचवीं बार प्रतिष्ठित कृषि कर्मण पुरस्कार
सेवा की विश्वसनीयता के लिए निरंतर आत्मविश्लेषण करें
एक थी रानी ऐसी भी म.प्र. में टैक्स फ्री
महुआ फूल और गुल्ली 30 रुपये प्रति कि.ग्रा. खरीदने के आदेश जारी
राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री विश्वास सारंग इंदौर प्रवास पर
सहकारिता राज्य मंत्री श्री विश्वास सारंग ने छोड़ी लाल बत्ती
सहकारिता राज्य मंत्री श्री सारंग ने किया श्रीराम महायज्ञ स्थल का निरीक्षण
अंडर-19 प्रधानमंत्री फुटबाल प्रतियोगिता 8 मई से भोपाल में
उज्जैन को परम्परा के साथ आधुनिक तकनीक से जोड़ा जायेगा
लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह से उत्तरप्रदेश के मुख्य अभियंता श्री श्रीवास्तव ने भेंट की
पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव का दौरा कार्यक्रम
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री द्वारा न्यूज पोर्टल साइबर न्यूज बुलेटिन्स का विमोचन
मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस का दौरा कार्यक्रम
राज्य मंत्री श्री शरद जैन का दौरा कार्यक्रम
तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी का दौरा कार्यक्रम
उर्जा मंत्री श्री पारस जैन ने बिजली कर्मचारियों से हड़ताल समाप्त करने की अपील की
टास्क फोर्स गठित
अध्यक्ष तीर्थ एवं मेला प्राधिकरण को मिला मंत्री का दर्जा
वेब-बेस्ड जीआईएस एप्लीकेशन के लिये शासन स्तर पर समिति गठित
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया श्रीमती रामकली मिश्रा के निधन पर शोक व्यक्त
प्रशासन अकादमी में मनाया गया सिविल सर्विस दिवस
श्री मोहनलाल मीणा पदोन्नत
1