| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

View in English Download Kruti News Download Chanakya News

मुख्य सचिव ने केंद्रीय दल को प्रदेश में सूखे की स्थिति की दी जानकारी

 

भोपाल : मंगलवार, नवम्बर 14, 2017, 20:52 IST
 

मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह ने आज प्रदेश के दौरे पर आये केन्द्रीय सूखा दल को प्रदेश में में विद्यमान सूखे की स्थिति के संबंध में जानकारी दी। भारत सरकार के कृषि मंत्रालय में संयुक्त सचिव श्री पी. के. बोरठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश के दौरे पर आए दस सदस्यीय दल के सम्मुख सूखा मेनुअल 2016 की प्रक्रियाओं के आधार पर प्रस्तुतिकरण दिया गया।

जिलों में फसल बोवनी की स्थिति, वैज्ञानिक आधार पर संकलित मिट्टी में नमी की जानकारी, बांधों में जल उपलब्धता की स्थिति आदि की राज्य स्तर पर हुई समीक्षा की जानकारी केंद्रीय दल के सम्मुख प्रस्तुत की गई। सूखा प्रभावित जिलों में पेयजल की स्थिति, आने वाले समय में पेयजल परिवहन के लिए की जाने वाली संभावित व्यवस्था, पशु चारे की स्थिति आदि के संबंध में केंद्रीय दल को जानकारी दी गई।

केंद्रीय दल को बताया गया कि ग्वालियर, शिवपुरी, अशोकनगर, विदिशा, सागर, टीकमगढ़, दमोह सर्वाधिक प्रभावित जिले हैं। साथ ही श्योपुर, मुरैना, भिंड, दतिया, छतरपुर, पन्ना, सतना, सीधी, शाजापुर जिले भी सूखे से प्रभावित हैं। शहडोल जिले के ब्यौहारी और जयसिंह नगर तथा उमरिया जिले की मानपुर तहसील भी सूखा प्रभावित है। प्रदेश के 18 जिलों के 17 हजार 749 गांवों की 2 करोड 46 लाख जनसंख्या सूखे से प्रभावित हुई है। प्रदेश का 97 लाख 52 हजार हैक्टेयर क्षेत्र सूखे से प्रभावित होने से 6 हजार 126 करोड रुपए की फसल का नुकसान हुआ है 1

राज्य सरकार ने केंद्र से कृषि आदान, पेयजल, चारा आपूर्ति तथा अन्य मदों में तीन हजार 705 करोड 95 लाख रुपए की सहायता की मांग की है। केंद्रीय दल सागर, दमोह, विदिशा, टीकमगढ़, ग्वालियर, शिवपुरी तथा अशोक नगर जिलों का भ्रमण करेगा।

बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त श्री पी. सी. मीना, प्रमुख सचिव कृषि श्री राजेश राजौरा , प्रमुख सचिव राजस्व श्री अरुण कुमार पाण्डे, प्रमुख सचिव सहकारिता श्री के. सी. गुप्ता, प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन श्री मलय श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव पशुपालन श्री अजीत केसरी तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Youtube
 
समाचारो की सूची
जनजातीय कार्य विभाग द्वारा संचालित छात्रावासों का युक्तियुक्तकरण करने की मंजूरी
प्रदेश में नई रेत खनन नीति 2017 लागू करने का निर्णय
ग्रामीण क्षेत्रों में विदयुत राजस्व संग्रहण की जिम्मेदारी महिला स्व-सहायता समूहों को देने पर विचार
सभी जिलों और तहसीलों में समाधान-एक दिन व्यवस्था लागू होगी
समाज के साथ नैतिक आंदोलन चलाने की आवश्यकता
स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में भोपाल को देश का नम्बर एक शहर बनाने में योगदान दें - मुख्यमंत्री श्री चौहान
"बिल्डिंग टूमॉरोस चैम्पियन" कार्यक्रम में खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया होंगी मुख्य अतिथि
अयूब खां ने प्लास्टिक मल्चिंग विधि अपनाकर खेती को बनाया लाभ का धंधा
प्रदेश में टी.बी. के मरीजों को रोजाना दवा मिलना शुरू : स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंह
महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बाल दिवस से आरंभ किया "मिशन पालना"
बच्चों को निर्भीक बनाएं : राज्य मंत्री श्रीमती ललिता यादव
राजस्व मंत्री द्वारा कोटरा में पेबिंग ब्लॉक का भूमि-पूजन
राजस्व मंत्री ने बाल दिवस पर विद्यार्थियों को किया पुरस्कृत
मुख्य सचिव ने केंद्रीय दल को प्रदेश में सूखे की स्थिति की दी जानकारी
अध्यापक संवर्ग के 4607 आवेदकों का हुआ अंतर-निकाय संविलियन
मुख्यमत्री बाल श्रवण योजना से लब्धि को मिली बोलने-सुनने की शक्ति
आयुर्वेद चिकित्सालय में हर माह दूसरे सोमवार को होगा नि:शुल्क मधुमेह परीक्षण
विश्व मधुमेह दिवस पर जे.पी. अस्पताल में हुई जागरूकता रैली
रेत खनन नीति - 2017 के प्रमुख बिन्दु
प्रत्येक पंचायत में होगी राशन दुकान : हर दुकान पर होगा स्वतंत्र विक्रेता
1