social media accounts

आज के समाचार

पिछला पृष्ठ

एसटी-एससी वर्ग की योजनाओं के लिये "हितग्राही प्रोफाइल पंजीकरण" व्यवस्था शुरू

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री आर्य ने किया शुभारंभ 

भोपाल : बुधवार, मई 16, 2018, 17:25 IST
 

जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जाति कल्याण राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने जनजातीय कार्य और अनुसूचित जाति कल्याण विभाग की विभिन्न योजनाओं का लाभ उठाने के लिये नये साफ्टवेयर के तहत ऑनलाइन 'हितग्राही प्रोफाइल पंजीकरण' व्यवस्था का शुभारंभ मंत्रालय स्थित अपने कक्ष से किया। इस मौके पर जनजातीय कार्य आयुक्त श्रीमती दीपाली रस्तोगी, सचिव श्री राजेश मिश्रा, अनुसूचित जाति कल्याण आयुक्त श्री आनंद शर्मा और अपर संचालक श्री विक्रमादित्य सिंह उपस्थित थे।

श्री आर्य ने http://mpsdc.gov.in/tribal_reg पर 'हितग्राही प्रोफाइल पंजीकरण' में आधार नम्बर, डिजिटल जाति प्रमाण-पत्र और समग्र आईडी के जरिये पंजीयन कर व्यवस्था की शुरूआत की। मोबाइल पर एसएमएस के जरिये श्री आर्य के पंजीयन की जानकारी प्राप्त हुई। इस प्रकार भोपाल से इस व्यवस्था का पहला रजिस्ट्रेशन शुरू हुआ। व्यवस्था में लगभग 70 योजनाओं को ऑनलाइन और कम्प्यूटरीकृत किया गया है। व्यवस्था के लिये लगभग 35 करोड़ रुपये स्वीकृत किये गये हैं। इसके जरिये विभागीय सभी कार्य-प्रणालियों का अध्ययन, सुधार और सरलीकरण किया जा रहा है। इससे अब हितग्राही को ऑफिस के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगें। आवेदक विभागीय वेबसाइट और इन्टरनेट कियोस्क से योजनाओं का लाभ ले सकेगा।

राज्य मंत्री श्री आर्य ने अनुसूचित जाति-जनजाति के आवेदकों से अपील की है कि वे शासन की योजनाओं का लाभ लेने के लिये इस व्यवस्था में अपना पंजीयन शीघ्र और आवश्यक रूप से करवायें। यह पंजीयन नि:शुल्क और सरलता से किया जा सकता है। पंजीयन से हितग्राही की पहचान, जाति, आय और मूल-निवास तथा शैक्षणिक विवरण स्वयंमेव विभाग को ज्ञात हो जाता है। पंजीयन मात्र से ही अनेक योजनाओं का लाभ हितग्राहियों को मिल सकेगा। प्रोफाइल पंजीकरण का पॉयलट प्रोजेक्ट बालाघाट में 10 तारीख से शुरू किया गया है, जिसमें अभी तक 470 पंजीयन किये जा चुके हैं। पंजीयन में मात्र 3 से 4 मिनिट का समय लगता है। इस सॉफ्टवेयर का उद्देश्य प्रदेश के जनजातीय और अनुसूचित जाति वर्ग के हितग्राहियों को सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ सरलता और पारदर्शिता से दिलाना सुनिश्चित करवाना है।

बताया गया कि इसके अलावा कुछ अन्य योजनाएँ हैं, जिनमें पंजीयन के बाद हितग्राही को पृथक से कियोस्क के माध्यम से ही आवेदन करना होगा। इसमें विभाग के किसी होस्टल में प्रवेश लेने के लिये पंजीयन के बाद हॉस्टल मॉड्यूल के अन्दर जाकर अपना यूनिक आईडी अपडेट कर प्रदेश के सभी हॉस्टल में रिक्त सीट का विवरण प्राप्त किया जा सकता है। इसके बाद आवेदक ऑनलाइन ही किसी भी हॉस्टल में प्रवेश के लिये आवेदन कर सकता है। विभागीय की अन्य योजनाएँ ; प्रतिभा योजना, यूपीएससी कोचिंग, सिविल सेवा प्रोत्साहन, आकांक्षा, साइकिल प्रदाय योजना इत्यादि के लिये भी अलग-अलग मॉड्यूल बनाये जा रहे हैं। इस सॉफ्टवेयर में विभाग द्वारा अन्य अनेक डेटाबेस सर्वर का इन्टीग्रेशन किया गया है। इन सर्वर में उपलब्ध जानकारी अपने आप विभाग के डाटा में प्राप्त हो जाती है। यूआईडीएआई, एनपीसीआई, ई-डिस्ट्रिक्ट एवं समग्र सर्वर के साथ इन्ट्रीग्रेशन किया जा चुका है। अन्य योजनाओं की आवश्यकतानुसार सॉफ्टवेयर को कोषालय, माध्यमिक शिक्षा मंडल, सीसीटीएनएस इत्यादि सर्वर के साथ इन्ट्रीगेट करने की कार्यवाही की जा रही है।


दुर्गेश रायकवार
उप-राष्ट्रपति श्री नायडू को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दी भावभीनी विदाई
श्री ओ.पी. कोहली ने मध्यप्रदेश के राज्यपाल के पद की शपथ ली
मुख्यमंत्री श्री चौहान को बहुजन संघर्ष दल के प्रतिनिधि-मंडल ने ज्ञापन सौंपा
उप राष्ट्रपति श्री नायडू का प्रदेश आगमन पर भव्य स्वागत
स्वच्छता सर्वेक्षण में मध्यप्रदेश को सम्मान दिलाने के लिये जनता का हृदय से धन्यवाद - मुख्यमंत्री श्री चौहान
माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय का तृतीय दीक्षांत समारोह
दो अप्रैल की घटना की निष्पक्ष जांच होगी
मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा बोर्ड परीक्षाओं में उच्च स्तर पर सफल विद्यार्थियों को बधाई
जनसम्पर्क मंत्री डॉ. मिश्र रीवा प्रवास पर
सड़क सुरक्षा अध्ययन दल ने किया चण्ड़ीगढ़ में यातायात सिस्टम का निरीक्षण
माँ तुझे प्रणाम योजना के तहत नाथुला दर्रा बार्डर की अनुभव यात्रा के लिए युवाओं का दल रवाना
आज रायसेन में दो छात्रावास का शिलान्यास करेंगे वन मंत्री डॉ. शेजवार
राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण में इंदौर प्रथम और भोपाल द्वितीय रहा
एसटी-एससी वर्ग की योजनाओं के लिये "हितग्राही प्रोफाइल पंजीकरण" व्यवस्था शुरू
राज्य संग्रहालय में 18 मई को विश्व की प्रमुख धरोहरों की छायाचित्र प्रदर्शनी
पोषण जागरूकता को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाएगा : मंत्री श्रीमती चिटनीस
तकनीकी शिक्षण संस्थाओं में प्रवेश के लिये काउंसलिंग में आधार को जोड़ने का प्रस्ताव
राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य का दौरा कार्यक्रम
धारा कार्यक्रम में हुई मध्यप्रदेश के ममता अभियान की सराहना
दुर्गम इलाकों के स्कूली बच्चों को मिलेगी बेहतर परिवहन व्यवस्था
मुख्य बाजार में है हीरालाल का "कान्हा फर्नीचर मार्ट
1