| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट

  
ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट-2016

मध्यप्रदेश अब देश का मुख्य प्रदेश

केन्द्र मध्यप्रदेश में नगरीय विकास के लिये हरसंभव सहायता देगा
नगरीय विकास सत्र में केन्द्रीय मंत्री श्री वैंकेया नायडू

भोपाल : रविवार, अक्टूबर 23, 2016, 13:15 IST

केन्द्रीय नगरीय विकास मंत्री श्री वैंकेया नायडू ने कहा है कि केन्द्र सरकार मध्यप्रदेश में नगरीय विकास के लिये हरसंभव सहायता प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश ने नगरीय अधोसंरचना विकास में उल्लेखनीय कार्य किया है। इंदौर स्वत:स्फूर्त स्मार्ट सिटी का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। प्रदेश की छोटी नगरीय बसाहटों में भी अधोसंरचना विकास समय-सीमा में पूर्ण हो, इस दिशा में लगातार प्रयास करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश अब देश का मुख्य प्रदेश बन गया है। श्री नायडू ने कहा कि नगरीकरण वर्तमान समय की आवश्यकता होने के साथ-साथ विकास का आधार भी है। श्री नायडू इंदौर में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में नगरीय विकास पर केन्द्रित विशेष सत्र को संबोधित कर रहे थे।

आयुक्त नगरीय विकास श्री विवेक अग्रवाल ने प्रजेंटेशन के माध्यम से मध्यप्रदेश में शहरी अधोसंरचना के लिये निवेश, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट, ट्रांस्पोर्टेशन प्रोजेक्ट, हाउसिंग, वाटर सप्लाई, सेनीटेशन एंड वेस्ट मैनेजमेंट के कार्यों का ब्यौरा दिया। उन्होंने बताया कि जबलपुर में सॉलिड वेस्ट से ऊर्जा उत्पादन का कार्य आरंभ हो चुका है।

नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान की पहल पर आरंभ हुई ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की परम्परा ने प्रदेश में विकास की प्रक्रिया को गति दी है। पिछले एक साल में प्रदेश में नगरीय विकास के क्षेत्र में 20 हजार करोड़ रूपये का निवेश हुआ है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 96 नगर का मास्टर प्लान तैयार हो चुका है और एक लाख करोड़ के इंटेशन टू इन्वेस्ट राज्य शासन को प्राप्त हुए हैं।

प्रमुख सचिव नगरीय विकास श्री मलय श्रीवास्तव ने बताया कि प्रदेश की बड़ी आबादी मझौले तथा छोटे नगरों में निवासरत है। यह बसाहटें विकास की प्रक्रिया से वंचित न रहे इसलिये अमृत और मुख्यमंत्री अधोसंरचना विकास योजना में इन स्थानों पर विभिन्न गतिविधियाँ संचालित की जा रही हैं।

सत्र में डीएफआईडी के प्रथम सचिव श्री सायमन लूकस ने भारत में जारी नगरीकरण क्रांति के दौर में हो रहे परिवर्तन को विकास का संकेतक बताया।

स्कूल ऑफ प्लानिंग एण्ड आर्किटेक्चर के श्री चेतन वैद्य ने कहा कि नगरीय नियोजन में सशक्त राजस्व आधार विकसित करना आवश्यक है। स्मार्ट सिटी ऑफ काउंसिल के श्री प्रताप पाडोडे ने कहा कि जीएसटी के बाद मध्यप्रदेश, देश के लॉजिस्टिक हब के रूप में विकसित होगा। उन्होंने ग्रामीण पलायन को रोकने के लिये गाँवों को स्मार्ट बनाने की आवश्यकता भी बतायी।

सत्र में प्रमुख सचिव परिवहन श्री एस.एन. मिश्रा, आयुक्त नगर एवं ग्राम निवेश श्री संजीव यादव, नगरीय विकास के क्षेत्र में सक्रिय विशेषज्ञों सहित अन्य अधिकारी एवं प्रतिनिधि उपस्थित थे।

 
ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट
पाँचवां वैश्विक निवेशक सम्मेलन अत्यधिक सफल
रु. 5,62,847 करोड़ के 2,630 निवेश आशय प्रस्ताव प्राप्त
निवेश के लिये मध्यप्रदेश सबसे अधिक पसंदीदा राज्य बना-विदेश मंत्री श्रीमती स्वराज
आर्थिक मंदी से जूझते विश्व में आशा की किरण है भारत
मध्यप्रदेश में नवकरणीय ऊर्जा में निवेशकों के लिये अच्छी संभावनाएँ
केन्द्रीय मंत्री श्री नायडू ने की विकास-प्रिय राज्य सरकार की प्रशंसा
मध्यप्रदेश में इन्वेस्ट कर अपनी तरक्की के साथ प्रदेश की भी तरक्की करें
मध्यप्रदेश में इलेक्ट्रानिक्स, ऑटोमोबाइल तथा निर्माण क्षेत्र में निवेश की संभावनाएँ तलाशेगा कोरिया
मध्यप्रदेश अब देश का मुख्य प्रदेश
ड्रम्स ऑफ मध्यप्रदेश को राज्य संगीत की मिलेगी पहचान : मुख्यमंत्री श्री चौहान
जापान की लोकप्रिय टेक्नालॉजी का मध्यप्रदेश में विस्तार होगा
खाद्य प्र-संस्करण विकास के लिये राज्य शासन दृढ़ संकल्पित : मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन
मध्यप्रदेश में हर वर्ष 15-20 प्रतिशत बढ़ रही है पर्यटक संख्या
मध्यप्रदेश होगा ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री का बेस्ट "डेस्टिनेशन
उद्योगपतियों ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के ईमानदार प्रयासों की दिल से तारीफ की
स्वास्थ्य मंत्री श्री रूस्तम सिंह द्वारा जीवनरक्षक दवाइयाँ मध्यप्रदेश में बनाने की अपील
प्रदेश में टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज को प्रोत्साहन के लिये उद्योग नीति में विशेष प्रावधान
मध्यप्रदेश-यू.ए.ई. में निवेश संभावनाओं पर संयुक्त चर्चा
ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जुड़ेगी देश की सभी ग्राम पंचायत
ब्राण्ड मध्यप्रदेश का आधार - श्री शिवराजसिंह चौहान का मधुर व्यवहार
उद्योगपतियों द्वारा मध्यप्रदेश के विकास की भरपूर सराहना
मध्यप्रदेश बनेगा देश का सप्लाई हब - केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री जेटली
6 लाख 89 हजार करोड़ रूपये के निवेश प्रस्ताव आये
मध्यप्रदेश में आईटी के क्षेत्र में अच्छा काम हुआ
"पीपीपी मॉडल-स्विस चेलेंज की चुनौतियाँ" सेक्टोरल सेमीनार
मध्यप्रदेश में टेक्सटाइल्स इंडस्ट्री में निवेश करने में मिलेंगे अच्छे परिणाम
प्रदेश की पर्यटन और भूमि निवर्तन नीति में हुए प्रभावी संशोधन
स्मार्ट सिटी के लिये बेहतर प्लानिंग जरूरी
मध्यप्रदेश नवकरणीय ऊर्जा क्षेत्र का नया पावर हब होगा
स्मार्ट सिटी निवेशकों के लिये बेहतर मौका
1 2 3 4