social media accounts







मंत्रिपरिषद के निर्णय

सामूहिक शक्ति प्रदेश के विकास में लगे- मुख्यमंत्री श्री चौहान

मंत्रि-परिषद की बैठक में मुख्य सचिव श्री डिसा के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित
मुख्य सचिव कार्यालय में नियुक्त ओ.एस.डी. श्री सिंह का स्वागत

भोपाल : गुरूवार, अक्टूबर 27, 2016, 21:46 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज यहाँ संपन्न मंत्रि-परिषद की बैठक में जारी माह के अंत में सेवानिवृत्त हो रहे मुख्य सचिव श्री अन्टोनी डिसा के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की गयी। मुख्य सचिव कार्यालय में ओ.एस.डी.के पद पर नियुक्त हुए श्री बसंत प्रताप सिंह का स्वागत किया गया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मुख्य सचिव श्री डिसा के कार्यकाल में प्रदेश ने विकास के नये सोपान छुए। मुख्य सचिव के रूप में चुने गये श्री सिंह नये उत्तरदायित्व में परिश्रम की पराकाष्ठा करेंगे। उन्होंने कहा कि टीम मध्यप्रदेश के रूप में हमें जनता के भविष्य को बनाने का दुर्लभ अवसर मिला है। प्रदेश विकास के लिये टेक ऑफ की स्थिति में है। अब इस उड़ान को विराम नहीं दे सकते। हमारी सामूहिक श‍क्ति प्रदेश के विकास में लगे। टीम मध्यप्रदेश के रूप में हर सदस्य बेहतर प्रदर्शन करे। विकास के ग्यारह सूत्री एजेंडे पर अमल करे। जन-कल्याण की योजनाओं के क्रियान्वयन पर विशेष ध्यान दे। प्रदेश को विकास के क्षेत्र में इतना आगे ले जाये कि वर्तमान नहीं बल्कि भविष्य के लिये उदाहरण बने।

मुख्य सचिव श्री डिसा ने कहा कि मुख्य सचिव के रूप में प्रदेश की सेवा का अवसर मिला। बीते तीन वर्षों में मुख्यमंत्री के नेतृत्व और मार्ग दर्शन में उपलब्धियाँ हासिल की गयी। पूरे कार्यकाल के दौरान मिला स्नेह और समर्थन हमेशा याद रहेगा। मंत्री-मंडल के सदस्यों का हमेशा सकारात्मक सहयोग मिला। नये मुख्य सचिव श्री सिंह विकास के सतत चल रहे कार्यक्रमों को आगे बढ़ायेंगे।

नये मुख्य सचिव के रूप में चुने गये श्री सिंह ने कहा कि मुख्य सचिव श्री डिसा के बाद यह दायित्व संभालना चुनौती है। वे इसे संपूर्ण परिश्रम से निभायेंगे। उन्होंने मंत्रि-परिषद की ओर से कृतज्ञता प्रस्ताव पढ़ा। इस प्रस्ताव में श्री डिसा के सेवा काल की प्रशंसा करते हुए उनके भावी जीवन के लिये शुभकामनाएँ व्यक्त की गयी हैं। इस अवसर पर मंत्रीमंडल के सदस्य तथा वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।


एसजे
मंदसौर की दो सिंचाई परियोजना के लिए रू. 1930.92 करोड़ स्वीकृत
राज्य शासन द्वारा सातवें वेतनमान में 2 प्रतिशत और छठवें वेतनमान में 3 प्रतिशत की वृद्धि
चना, मसूर और सरसों की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी करने का निर्णय
मंत्रि-परिषद द्वारा पट्टा नवीनीकरण प्रक्रिया का अनुमोदन
राज्य मंत्रि-परिषद की बैठक में हुए किसान हितैषी निर्णय
प्रदेश के 30 नगरीय क्षेत्रों में 43 नवीन तहसीलों के गठन की सैद्धांतिक स्वीकृति
अल्पकालीन फसल ऋण की देय तिथि 27 अप्रैल तक बढ़ाने की मंजूरी
मध्यप्रदेश मंत्रालय में ई-ऑफिस प्रणाली लागू करने की मंजूरी
मंत्रि-परिषद ने आबकारी नीति वर्ष 2018-19 को दी मंजूरी
कौशल प्रशिक्षण एवं उच्चतर शिक्षा के मध्य अंतराल मिटाने के लिये ऐतिहासिक कदम
मुख्यमंत्री तेदूंपत्ता संग्राहक कल्याण दुर्घटना सहायता योजना के लिए 12.45 करोड़ स्वीकृत
हाई स्कूल/हायर सेकेण्डरी स्कूलों के उन्नयन के लिए 335 करोड़ स्वीकृत
सहरिया, बैगा और भारिया परिवारों को कुपोषण से मुक्ति के लिए प्रतिमाह 1000 रुपए
प्रदेश के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी क्षेत्र को सुदृढ़ बनाने का फैसला
आचार्य शंकर सांस्कृतिक एकता न्यास की स्थापना की जाएगी
जनजातीय कार्य विभाग द्वारा संचालित छात्रावासों का युक्तियुक्तकरण करने की मंजूरी
प्रदेश में नई रेत खनन नीति 2017 लागू करने का निर्णय
सीप कोलार लिंक परियोजना के लिए 137 करोड़ रुपये मंजूर
प्रदेश में 225 लघु सिंचाई परियोजना के लिए 180 करोड़ रूपये मंजूर
उद्योग संवर्द्धन नीति-2014 में संशोधन की मंजूरी
उद्योग एवं रोजगार संचालनालय की योजनाओं के लिए 2195 करोड़ रुपये की राशि मंजूर
मध्यप्रदेश कृषि उत्पाद लागत एवं विपणन आयोग के लिए नए पद निर्मित
शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं के लिए ड्रिकिंग वॉटर योजना की मंजूरी
स्कूल शिक्षा विभाग की 5 योजनाओं के लिये 493.11 करोड़ रूपये स्वीकृत
प्रदेश में किसानों के लिये भावान्तर भुगतान योजना लागू करने का निर्णय
तहसीलदार और नायब-तहसीलदार के रिक्त पदों की पूर्ति संविदा पर करने की मंजूरी
देवास में उद्योगों को जल देने विकासकर्ता चयन की मंजूरी
पचमढ़ी से 11 ग्राम अभयारण्य क्षेत्र से बाहर -शेष 28 ग्राम का इनक्लोजर
शासकीय सेवकों को एक जनवरी, 2016 से पुनरीक्षित वेतनमान
विद्युत दरों पर उपभोक्ताओं को 8700 करोड़ की सब्सिडी देने का निर्णय
1 2 3 4 5 6 7 8 9