social media accounts







मंत्रिपरिषद के निर्णय

मध्‍यप्रदेश टूरिज्‍म बोर्ड का होगा गठन

ट्रेवल एण्‍ड टूरिज्‍म के राष्‍ट्रीय स्‍तर के संस्‍थान की स्‍थापना होगी
पचमढ़ी में पर्यटन केबिनेट में महत्‍वपूर्ण निर्णय

भोपाल : मंगलवार, फरवरी 14, 2017, 14:43 IST

मध्‍यप्रदेश पर्यटन केबिनेट की बैठक आज मुख्‍यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्‍यक्षता में मशहूर पर्यटन-स्‍थली पचमढ़ी में संपन्‍न हुई। बैठक में पर्यटन के विस्‍तार एवं प्रोत्‍साहन के लिये मध्‍यप्रदेश टूरिज्‍म बोर्ड के गठन का निर्णय लिया गया। पर्यटन विभाग के अंतर्गत एक पृथक संस्‍था मध्‍यप्रदेश टूरिज्‍म बोर्ड का गठन कम्‍पनी अधिनियम के तहत अलाभप्रद कम्‍पनी के रूप में किया जायेगा।

मध्‍यप्रदेश टूरिज्‍म बोर्ड के मुख्‍य कार्य, पर्यटन नीति 2016 के सभी दायित्‍वों का निर्वहन करना, पर्यटन क्षेत्र में निजी निवेश को आकर्षित करना, इन्‍वेस्‍टर्स फेसिलिटेशन, निवेशकों को नीति अनुसार अनुदान एवं सुविधाएँ उपलब्‍ध करवाना तथा निवेशकों को आकर्षित करने के लिये नई नीतियों का आकल्‍पन, क्रियान्‍वयन एवं मॉनिटरिंग, निजी निवेश से पर्यटन परियोजना की स्‍थापना को बढ़ावा देने के लिये उपयुक्‍त स्‍थल चयन कर लैण्‍ड बैंक को निरंतर बढ़ाना, प्रदेश में पर्यटन संबंधी समस्‍त स्‍थान जैसे, पुरातात्विक स्‍थलों, वन्‍य-प्राणी स्‍थलों, प्राकृतिक सौन्‍दर्ययुक्‍त गुफाओं, पार्कों, जल क्षेत्रों एवं अन्‍य मनोरंजक स्‍थानों के विकास की कार्य-योजनाएँ बनाना और उनके अनुरक्षण के उपाय करना, राष्‍ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्‍तर पर पर्यटन के प्रोत्‍साहन से संबंधित विभिन्‍न आयोजनों में भाग लेकर निजी निवेशकों को प्रोत्‍साहित करना, मेले, स्‍थानीय व्‍यंजन, संस्‍कृति, वेश-भूषा, हस्‍तशिल्‍प एवं हस्‍तकला के माध्‍यम से ग्रामीण पर्यटन को प्रोत्‍साहित करना और ईको पर्यटन के लिये आवश्‍यक व्‍यवस्‍थाएँ स्‍थापित करना, आदि होंगे।

बोर्ड के संचालक मंडल के अध्‍यक्ष मुख्‍यमंत्री और उपाध्यक्ष पर्यटन मंत्री एवं मुख्‍य सचिव रहेंगे। वित्‍त, वन, नगरीय विकास एवं पर्यावरण तथा संस्‍कृति विभाग के प्रमुख सचिव, संचालक होंगे। संचालक मण्‍डल के पदेन सदस्‍य सचिव एवं प्रबंध संचालक, प्रमुख सचिव पर्यटन विभाग होंगे। टूरिज्‍म प्रमोशन यूनिट, योजना, प्रशिक्षण, ईको टूरिज्‍म एवं एडवेंचर, रचनात्‍मक एवं प्रचार-प्रसार गतिविधियाँ, मार्केटिंग, मेला एवं उत्‍सव, सूचना प्रौद्योगिकी आदि गतिविधियाँ मध्‍यप्रदेश टूरिज्‍म बोर्ड में सम्‍पादित होंगी। मध्‍यप्रदेश राज्‍य पर्यटन विकास निगम द्वारा पूर्ववत होटलों, रेस्‍टोरेंट, बोट क्‍लब, परिवहन बेड़े आदि का संचालन किया जायेगा।


आर.बी. त्रिपाठी
चना, मसूर और सरसों की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी करने का निर्णय
मंत्रि-परिषद द्वारा पट्टा नवीनीकरण प्रक्रिया का अनुमोदन
राज्य मंत्रि-परिषद की बैठक में हुए किसान हितैषी निर्णय
प्रदेश के 30 नगरीय क्षेत्रों में 43 नवीन तहसीलों के गठन की सैद्धांतिक स्वीकृति
अल्पकालीन फसल ऋण की देय तिथि 27 अप्रैल तक बढ़ाने की मंजूरी
मध्यप्रदेश मंत्रालय में ई-ऑफिस प्रणाली लागू करने की मंजूरी
मंत्रि-परिषद ने आबकारी नीति वर्ष 2018-19 को दी मंजूरी
कौशल प्रशिक्षण एवं उच्चतर शिक्षा के मध्य अंतराल मिटाने के लिये ऐतिहासिक कदम
मुख्यमंत्री तेदूंपत्ता संग्राहक कल्याण दुर्घटना सहायता योजना के लिए 12.45 करोड़ स्वीकृत
हाई स्कूल/हायर सेकेण्डरी स्कूलों के उन्नयन के लिए 335 करोड़ स्वीकृत
सहरिया, बैगा और भारिया परिवारों को कुपोषण से मुक्ति के लिए प्रतिमाह 1000 रुपए
प्रदेश के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी क्षेत्र को सुदृढ़ बनाने का फैसला
आचार्य शंकर सांस्कृतिक एकता न्यास की स्थापना की जाएगी
जनजातीय कार्य विभाग द्वारा संचालित छात्रावासों का युक्तियुक्तकरण करने की मंजूरी
प्रदेश में नई रेत खनन नीति 2017 लागू करने का निर्णय
सीप कोलार लिंक परियोजना के लिए 137 करोड़ रुपये मंजूर
प्रदेश में 225 लघु सिंचाई परियोजना के लिए 180 करोड़ रूपये मंजूर
उद्योग संवर्द्धन नीति-2014 में संशोधन की मंजूरी
उद्योग एवं रोजगार संचालनालय की योजनाओं के लिए 2195 करोड़ रुपये की राशि मंजूर
मध्यप्रदेश कृषि उत्पाद लागत एवं विपणन आयोग के लिए नए पद निर्मित
शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं के लिए ड्रिकिंग वॉटर योजना की मंजूरी
स्कूल शिक्षा विभाग की 5 योजनाओं के लिये 493.11 करोड़ रूपये स्वीकृत
प्रदेश में किसानों के लिये भावान्तर भुगतान योजना लागू करने का निर्णय
तहसीलदार और नायब-तहसीलदार के रिक्त पदों की पूर्ति संविदा पर करने की मंजूरी
देवास में उद्योगों को जल देने विकासकर्ता चयन की मंजूरी
पचमढ़ी से 11 ग्राम अभयारण्य क्षेत्र से बाहर -शेष 28 ग्राम का इनक्लोजर
शासकीय सेवकों को एक जनवरी, 2016 से पुनरीक्षित वेतनमान
विद्युत दरों पर उपभोक्ताओं को 8700 करोड़ की सब्सिडी देने का निर्णय
पुनरीक्षित दीनदयाल अंत्योदय उपचार योजना 13 जिलों में लागू होगी
स्नातक स्तर के सामान्य पाठ्यक्रमों में सेमेस्टर प्रणाली समाप्त
1 2 3 4 5 6 7 8 9